एक साल पहले आज ही के दिन पाकिस्तान की नापाक हरकत के कारण 40 जवान हुए थे शहीद

Pulwama Terror Attack First Anniversary, एक साल पहले आज ही के दिन पाकिस्तान की नापाक हरकत के कारण 40 जवान शहीद हो गए। हमने सीआरपीएफ के 40 बहादुर जवानों की शहादत दी। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले की आज पहली बरसी है। पुलवामा आतंकी हमले की बरसी के मौके पर सीआरपीएफ ने अपने बहादुर जवानों को याद किया है। सीआरपीएफ ने शहीद जवानों को याद किया और लिखा, ‘हम भूले नहीं, हमने भुलाया नहीं..

आज सीआरपीएफ ने ट्वीट कर लिखा, ”तुम्हारे शौर्य के गीत, कर्कश शोर में खोये नहीं। गर्व इतना था कि हम देर तक रोये नहीं।” ट्वीट में आगे लिखा गया, ‘हम नहीं भूलते, हमने नहीं भुलाया, हम अपने उन भाइयों को सलाम करते हैं जिन्होंने पुलवामा में राष्ट्र की सेवा में अपना बलिदान दिया। प्रेरित, हम अपने बहादुर शहीद जवानों के परिवारों के साथ खड़े हैं।

Loading...

बता दें, पिछले साल 14 फरवरी को पाकिस्तान के जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकी ने पुलवामा में एक आत्मघाती आतंकी हमले किया, जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गये। इस हमले में एक बम से भरी गाड़ी सीआरपीएफ(CRPF) के काफिले से टकरा गई थी।

सीआरपीएफ(CRPF) ने कुछ ऐसा ही ट्वीट पिछले साल भी किया था। आतंकी हमले के बाद ट्वीट कर सीआरपीएफ ने लिखा, ‘ जब पूरा देश जवानों को खोने का गम मना रहा था, तब जोश भरने के लिए सीआरपीएफ ने एक ट्वीट किया था. ट्वीट में लिखा था, ‘हम भूलेंगे नहीं, हम बख्शेंगे नहीं। पुलवामा में शहीद हुए जवानों को हम सलाम करते हैं और उनके परिवारों के साथ हैं। इस जघन्य अपराध का बदला लिया जाएगा।’

गौरतलब है कि पुलवामा हमले के बाद सेना ने तुरंत आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन तेज कर दिया था। हमले के 100 घंटे के अंदर पुललामा आतंकी हमले के मास्टरमाइंड और जैश के आतंकी कामरान को सेना के जवानों ने मौत के घाट उतार दिया। इसके कुछ दिन बाद 26 फरवरी को बालाकोट में जैश के आतंकी ठिकानों पर वायुसेना ने एयरस्ट्राइक की। इसमें सैकड़ों आतंकियों के मारे जाने का वायुसेना ने दावा किया।

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker