कुसमरा मैनपुरी रोड पर बिना फिटनेस आधे अधूरे कागजों के रोड़ पर फर्राटे भर रहीं डग्गामार बसें

प्रवीण पाण्डेय/नवीन पाण्डेय
कुसमरा/मैनपुरी- कुसमरा से मैनपुरी रोड पर प्राइवेट बसें जुगाड़ के सहारे चल रही हैं। विभाग को अंधेरे में रख कर फिटनेस व अन्य कागजातों को तैयार कर डग्गामार बसों को रोड पर धड़ल्ले से चलाने के साथ मनमाना किराया वसूला रहा है। बाडी के अलावा सीट जर्जर होने से यात्रियों को बैठने में भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।


    कुसमरा से एलाऊ होती हुई मैनपुरी तक प्रतिदिन दर्जनों प्राइवेट बसों का संचालन हो रहा है, जिसमें अधिकांश में बैठने की सीटें तक ठीक नही हैं। किराया मानकों को ताक पर रखकर यात्रियों से मनमाना ढंग से वसूला जा रहा है, जबकि सुविधाओं के नाम पर कुछ नहीं दिखता। सूत्रों के मुताबिक कई नटवरलाल ऐसे हैं जो विभाग के कर्मचारियों से सांठगांठ कर अवैध बसों का संचालन करवा रहे हंै। देखने में ही जर्जर दिख रही बसों को यात्रा के लिए हरी झंडी देने वाले जिम्मेदारों द्वारा फिटनेस सर्टिफिकेट कैसे दे दिया जा रहा है, यह जांच का विषय है।

अधिकतर बसें जुगाड़ के सहारे चल रही हैं। जिसमें बाडी से लेकर टायर तक स्थिति रोड पर चलने लायक नहीं दिखाई पड़ती हैं। लोगों का कहना है कि ट्रैफिक नियमों को दरकिनार कर विभाग द्वारा परमिट दिया जाना यात्रियों के साथ धोखा किया जा रहा है, जिसमें विभाग की भी मिली भगत साबित होने से इंकार नहीं किया जा सकता। कि डग्गामार बसों का संचालन रोकने के लिए एआरटीओ को पत्र लिख रहे हैं। शीघ्र ही सरकारी परिवहन चलाया जाये कुसमरा से मैनपुरी तक जो कि मनमानी किराया ना वसूला जाये।

Back to top button
E-Paper