बिहार चुनाव: दो लाख नब्बे हजार जीविका दीदी ने लिया मतदान में भागीदारी का संकल्प

बेगूसराय । चुनाव से पहले मतदाताओं को जागरूक करने के लिए वर्षों से जागरूकता अभियान चलाए जाते रहे हैं लेकिन इस बार यहां बदला-बदला सा नाजारा देखने को मिल रहा है। विधानसभा चुनाव में जागरुकता अभियान यहां एक नया इतिहास बना रहा है। सोशल मीडिया और अन्य साधनों से मतदान के लिए लोगों को जागरूक करने के लिए जीविका दीदी द्वारा चलाए जा रहे अभियान में घर-घर जाकर दस्तक दी जा रही है। जीविका दीदी लोग विभिन्न प्रतियोगिताओं के माध्यम से लोगों में नई ऊर्जा का संचार कर रही हैं, ताकि दुनिया के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश में लोकतंत्र की जननी बिहार और समृद्ध हो सके।

डीएम अरविन्द कुमार वर्मा ने बताया कि जिले में तीन नवम्बर को होने वाले विधानसभा चुनाव में सभी की भागीदारी सुनिश्चित करने के उद्देश्य से जीविका दीदी द्वारा स्वीप गतिविधि के तहत लगातार प्रयास किया जा रहा है। मतदान के प्रति आमजनों में उत्साह भरने के लिए जीविका स्वयं सहायता समूह से जुड़ी दीदियां अलग-अलग गतिविधियों का आयोजन कर रही हैं। विभिन्न प्रखंडों में गठित जीविका के ग्राम संगठन की अगुवाई में मतदाता जागरुकता अभियान चलाकर लोकतंत्र में चुनाव की महत्ता को समझते हुए सदस्यों के द्वारा सामूहिक रूप से शपथ लेकर मतदान में भागीदारी का संकल्प लिया जा रहा है।

Loading...

मतदान के दौरान बरती जाने वाली सामाजिक दूरी तथा मास्क के प्रयोग को लेकर भी सभी को जागरूक किया जा रहा है। प्रभात फेरी तथा गृह भ्रमण के द्वारा अपने गांव तथा पंचायत के सभी मतदाताओं में मतदान के प्रति चेतना लाई जा रही है। शाम को आयोजित हो रहे मशाल जुलूस तथा कैंडल मार्च के जरिए आमजनों को वोट देने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। इस क्रम में ‘जो बांटेगा साड़ी नोट उसको कभी न देंगे वोट, लोकतंत्र है शान हमारी, ‌मतदान में हो सभी की भागीदारी’ जैसे नारों के उद्घोष के साथ जागरुकता रैली के माध्यम से भी लोकतंत्र के महत्व को सबसे साझा किया जा रहा है।

जिले में अब तक दो लाख नब्बे हजार जीविका दीदियां अपने समूह की बैठकों में मतदान में भागीदारी का शपथपूर्वक संकल्प ले चुकी हैं। दो हजार से अधिक बार मेंहदी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है। छह सौ से अधिक मशाल जुलुस का आयोजन कर आम जनों को मतदान के प्रति संवेदनशील किया गया है। पच्चीस हजार से अधिक बार मतदाता जागरुकता अभियान का संचालन किया जा चुका है। जीविका द्वारा गठित छब्बीस हजार समूहों की साप्ताहिक बैठकों में मतदान में भाग लेने पर चर्चा की जा चुकी है।

जीविका सदस्यों के द्वारा पचास हजार से अधिक परिवारों का गृह भ्रमण कर आगामी चुनाव में सहभागिता की अपील की गई है। बारह हजार से अधिक रंगोली का निर्माण कर लोकतंत्र के सन्देश को आमजनों से साझा किया गया है। करीब एक हजार प्रभात फेरी का आयोजन किया गया है। पंद्रह सौ से अधिक बार कैंडल मार्च का आयोजन कर लोकतंत्र के प्रकाश को फैलाने का कार्य अब तक किया गया है।

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker