सर्दी के मौसम में गुड़ खाने से होते हैं कई फायदें, बड़ी से बड़ी बीमारियाँ भागती है कोसो दूर

गुड़ जैसा कि इसका नाम है यह उतना ही गुणकारी है। खास तौर पर सर्दी के दिनों में इसका सेवन स्वास्थ्य के लिए अति उत्तम माना गया है। गुड़ खाना वैसे तो आपके स्वास्थ्य और पाचन के लिए लाभदायक होता है, लेकिन सर्दी के मौसम में गुड़ खाने के अपने ही फायदे हैं। गुड़ स्वास्थ्य के लिए अमृत माना गया है क्योंकि गुड़ खाने के बाद यह शरीर में क्षार पैदा करता है जो हमारे पाचन को अच्छा बनाता है। सर्दी के दिनों में गुड़ आपके लिए हर तरह से फायदेमंद है। फिलहाल जानिए गुड़ के यह 15 फायदे –

Loading...

अक्सर भोजन के बाद गुड़ खाने की सलाह दी जाती है। शकर या चीनी को सफेद जहर कहा जाता है यह अम्ल पैदा करती है जो शरीर के लिए हानिकारक है। शकर की तुलना में गुड़ को पचाने में शरीर को काफी कम कैलोरी खर्च करनी होती है। गुड़ में कैल्शियम के साथ-साथ फास्फोरस भी होता है जो अस्थियों को बनाने व उन्हें मजबूती प्रदान करने में सहायक होता है। इसके अलावा मैग्नीशियम, पोटेशियम, आयरन और कुछ मात्रा में कॉपर जैसे स्वास्थ्य वर्धक तत्व होते हैं।

गुड़ में ब्राउन शुगर की अपेक्षा पाँच गुना अधिक और शकर की तुलना में पचास गुना अधिक मिनरल्स होते है। गुड़ की न्यूट्रीशन वैल्यू शहद के बराबर मानी गई है। बच्चे के जन्म के बाद माता को गुड़ देने से कई बड़ी बीमारियां दूर होती हैं यह मिनरल्स की कमी को दूर करता है बच्चे के जन्म के 40 दिनों के अन्दर माता के शरीर में बनने वाले सभी ब्लड क्लाट्स को खत्म करता है। गुड़ आधे सिर के दर्द से बचाव करता है स्त्रियों में मासिक धर्म से सम्बंधित परेशानियों को ठीक करता है।

सर्दी में गुड़ खाने के हैं ये है 15 फायदे

गुड़ की तासीर गर्म होती है, इसलिए सर्दी के दिनों में इसका सेवन आपको गर्माहट देने में बेहद कारगर होता है। सर्दी में गुड़ का प्रति‍दिन सेवन आपको सर्दी, खांसी और जुकाम से भी बचाता है। इन दिनों में गले और फेफड़ों में संक्रमण बहुत जल्दी फैलता है। इससे बचने में भी गुड़ का सेवन आपकी बहुत मदद कर सकता है। सर्दी और संक्रमण की दवाईयों में गुड़ का प्रयोग किया जाता है।

गुड़ शरीर का रक्त साफ करता है और मेटाबॉलिज्म ठीक करता है। रोज एक गिलास पानी या दूध के साथ गुड़ का सेवन पेट को ठंडक देता है। इससे गैस की समस्या नहीं होती। जिन लोगों को गैस की परेशानी है, वो रोज़ लंच या डिनर के बाद थोड़ा गुड़ ज़रूर खाएं।

गुड़ आयरन का मुख्य स्रोत है। इसलिए यह एनीमिया के मरीज़ों के लिए बहुत फायदेमंद है। खासतौर पर महिलाओं के लिए इसका सेवन बहुत अधिक लाभदायक है। गुड़ मैग्नीशियम का एक बेहीतरीन स्रोत है।

गुड़ ब्लड से खराब टॉक्सिन दूर करता है, जिससे त्वचा दमकती है और मुहांसे की समस्या नहीं होती। गुड़ खाने से मांसपेशियों, नसों और रक्त वाहिकाओं को थकान से राहत मिलती है। और खून की कमी दूर करने में भी यह बेहद मददगार साबित होता है।

ज्यादा थकान और कमजोरी महसूस करने पर गुड़ का सेवन करने से आपका एनर्जी लेवल बढ़ जाता है। गुड़ जल्दी पच जाता है, इससे शुगर का स्तर भी नहीं बढ़ता। दिनभर काम करने के बाद जब भी आपको थकान हो, तुरंत गुड़ खाएं।

गुड़ शरीर के टेंपरेचर को नियंत्रित रखता है। इसमें एंटी एलर्जिक तत्व होते हैं, इसलिए दमा के मरीज़ों के लिए इसका सेवन काफी फायदेमंद होता है।

रोज़ गुड़ के एक टुकड़े के साथ अदरक का सेवन करें, इससे सर्दियों में जोड़ों के दर्द की समस्या नहीं होगी।

गुड़ के साथ पके चावल खाने से बैठा हुआ गला व आवाज खुल जाती है।
गुड़ और काले तिल के लड्डू खाने से सर्दी में अस्थमा की परेशानी नहीं होती ।
जुकाम जम गया हो, तो गुड़ पिघलाकर उसकी पपड़ी बनाकर खिलाएं।
गुड़ और घी मिलाकर खाने से कान का दर्द ठीक हो जाता है।
भोजन के बाद गुड़ खाने से पेट में गैस नहीं बनती ।
पांच ग्राम सौंठ दस ग्राम गुड़ के साथ लेने से पीलिया रोग में लाभ होता है।
गुड़ का हलवा खाने से स्मरण शक्ति बढती है।
पांच ग्राम गुड़ को इतने ही सरसों के तेल में मिलाकर खाने से श्वास रोग से छुटकारा मिलता है।

सर्दियों में बीमारियों से बचने के लिए शरीर को अंदर से गर्म रखना बहुत जरूरी है। शरीर अंदर से गर्म न होने के कारण कई बीमारियों की चपेट में आता है। इस मौसम में शरीर को नेचुरल गर्म रखने और बीमारियों से दूर रहने के लिए आप गुड़ का सेवन कर सकतें है।

Loading...
loading...
div#fvfeedbackbutton35999{ position:fixed; top:50%; right:0%; } div#fvfeedbackbutton35999 a{ text-decoration: none; } div#fvfeedbackbutton35999 span { background-color:#fc9f00; display:block; padding:8px; font-weight: bold; color:#fff; font-size: 18px !important; font-family: Arial, sans-serif !important; height:100%; float:right; margin-right:42px; transform-origin: right top 0; transform: rotate(270deg); -webkit-transform: rotate(270deg); -webkit-transform-origin: right top; -moz-transform: rotate(270deg); -moz-transform-origin: right top; -o-transform: rotate(270deg); -o-transform-origin: right top; -ms-transform: rotate(270deg); -ms-transform-origin: right top; filter: progid:DXImageTransform.Microsoft.BasicImage(rotation=4); } div#fvfeedbackbutton35999 span:hover { background-color:#ad0500; }
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker