अमेठी : जिले के चार केन्द्रों पर कोविड टीकाकरण की शुरूआत कल से, तैयारियां पूरी

टीकाकरण शुभारम्भ के पूर्व प्रधानमंत्री द्वारा जरिये टीवी लाइव सम्बोधन

गौरीगंज, अमेठी। देश, प्रदेश के साथ अमेठी जिले में भी लोगों की आस पूरी होने को है । आज 9 बजे से जिले के चार सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों गौरीगंज, अमेठी, जगदीशपुर व बाजार शुकुल में कोविड-19 टीकाकरण की शुरूआत हो जायेगी। टीकाकरण से लोगों विशेष रूप से स्वास्थ्य कर्मियों में बढेगा आत्म विश्वास। देश के लिए आज का दिन कोरोना पर भारतीय जीत के उत्सव का दिन है। भारतीय औषधि विशेषज्ञों और वैज्ञानिकों ने विश्व में कीर्तिमान स्थापित करने के साथ ही 9 महीने से कोविड-19 से संघर्ष कर रहे भारत के लोगों की आशा पूरी कर, आत्म विश्वास बढ़ाने का यह शुभ दिन लाने का महान कार्य किया है।

यह बातें जिलाधिकारी अमेठी अरुण कुमार ने प्रेस वार्ता के दौरान कही। उन्होंने कहा कि जिले में आज 9 बजे टीकाकरण की शुरूआत के पहले प्रधानमंत्री द्वारा टीवी पर लोगों को संबोधित किया जायेगा जिसको देखने व सुनने की सुविधा सभी स्वास्थ्य केन्द्रों पर उपलब्ध करायी गयी है। जिलाधिकारी व डा. आशुतोष कुमार द्विवेदी मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि जिले को जोनल स्टोर अयोध्या से 9 हजार 7 सौ 60 कोविड बैक्सीन की डोज प्राप्त हुई है जिसे सम्बंधित स्वास्थ्य केन्द्रों तक कडी सुरक्षा के बीच कल ही पहुंचा दिया गया है। कोविड बैक्सीन को सम्बंधित स्वास्थ्य केन्द्रों पर सीसीटीवी एवं सुरक्षा के घेरे में रखा गया है जिसकी निगरानी के लिए चिकित्सकों एवं प्रशासनिक अधिकारियों की टीम लगायी गयी है। उन्होंने बताया कि जिले में कुल 1352 बैक्सीनेटर को प्रशिक्षित किया जा चुका है जो 32 बैक्सीनेशन प्वाइंट पर टीका लगाने का कार्य करेंगे।

फिलहाल कल से केवल चार केन्द्रों पर शुरूआत की जायेगी जहां पर प्रत्येक जगह 100 लोगों का टीकाकरण करते हुए कुल 400 लोगों का टीकाकरण सम्पन्न कराया जायेगा। टीकाकरण के लिए हर केन्द्र पर सात स्वास्थ्य कर्मी, दो सुरक्षा कर्मी, एसीएमओ स्तर का जोनल अधिकारी नियुक्ति किया गया है और सम्बंधित तहसील के उपजिलाधिकारी लगातार दौरा कर निगरानी करेंगे। प्रथम चरण में सरकारी और निजी अस्पतालों के 7860 स्वास्थ्य कर्मियों को टीके लगाये जायेगे। जिला स्तर पर एक बैक्सीन भण्डार के अतिरिक्त पूरे जिले में 15 कोल्डचेन प्वाइंट 13 सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र एक निजी चिकित्सालय एवं एक फार्मेसी कालेज में बनाये गये है। आगे चलकर कुल 32 टीकाकरण प्वाइंट पर टीकाकरण किया जायेगा। जिले की बैक्सीन स्टोरेज क्षमता 7 लाख 77 हजार 945 डोज की है। टीकाकरण के बाद एईएफआई, एडवर्स इंवेंट फालोइंग इमुनाईजेशन के लिए भी समुचित स्टाफ को प्रशिक्षित किया जा चुका है ताकि टीकाकरण के बाद भी लोगों को समुचित देखभाल दी जा सके।


किन-किन लोगों को नहीं लगेगी बैक्सीन
कोविड बैक्सीन 18 वर्ष से कम आयु के बच्चों, गर्भवती महिलाओं, बच्चों को दुग्धपान करा रही महिलाओं, कोेेविड के मरीजों, व तेज बुखार, जुकाम, खांसी के लक्षण से युक्त व्यक्तियों को टीकाकरण नहीं किया जायेगा। शेष सभी के लिए टीकाकरण की व्यवस्था की जा रही है जो चरणबद्ध तरीके से पूरी की जायेगी।

देश व प्रदेश के रेशियो में बेहतर व मंडल में रहे प्रथम डीएम ने बताया कि जिले में अब तक 2 लाख 52 हजार 716 लोगों की जांच के बाद कुल 3643 कोरोना मरीज पाये गये जिसमें से तीन हजार 555 मरीज स्वस्थ्य हो चुके है और वर्तमान में 52 मरीजों का इलाज चल रहा है। जिले में कोरोना से मरने वालों की संख्या 36 है। देश और प्रदेश और मण्डल अयोध्या के आंकडों के साथ डीएम ने बताया कि जिले में सभी के संयुक्त प्रयास से अब तक देश व प्रदेश में कोरोना की स्थिति के रेशियो में हमारी स्थिति बेहतर रही है और हम मण्डल में कोरोना नियंत्रण और बचाव के मामले में प्रथम स्थान पर है।

Back to top button
E-Paper