अब हरियाणा में दो पुलिसकर्मियों की हत्या: मरने से पहले कॉन्सटेबल ने हाथ पर लिखा गाड़ी का नंबर…

हरियाणा के पानीपत में दो पुलिस जवान के वीरगति के प्राप्त होने की खबर है। आईपीएस अधिकारी सूरज सिंह परिहार ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जवानों को वायरलेस के माध्यम से एक गाड़ी के बारे में सूचना मिली थी। जब वो उस गाड़ी को रोकने की कोशिश कर रहे थे तो आरोपितों ने उन पर गोलियों से हमला किया और उनकी हत्या कर दी।

Loading...

वीरगति को प्राप्त हुए एक जवान ने गोली लगने के बाद भी, मौत से पहले, खून से सने सड़क पर लेटे एक पुलिसकर्मी ने मामले को सुलझाने में पुलिस की मदद करने के लिए अपने हाथ पर वाहन का नंबर लिखा था।

सोनीपत एसपी जशनदीप सिंह रंधावा ने बताया कि बुटाना चौकी में तैनात हमारे कॉन्सटेबल रविंद्र व एसपीओ कप्तान सिंह गश्त पर थे। दोनों जवान रविंद्र और कप्तान ने उन्हें नाईट कर्फ्यू की अवेहलना में गिरफ्तार करना चाहा तो उन्होंने उनपर हमला कर दिया और वारदात को अंजाम दे डाला।

उन्होंने आगे कहा, “रविंद्र बलिदान होते-होते गाड़ी का नम्बर अपने हाथ पर लिख गए और उनकी मदद से हमें उस मामले को ट्रैस करने में सफलता हासिल भी हुई। इस मामले में हमने अमित नाम के आरोपित को एनकाउंटर में मार भी गिराया है जबकि एक आरोपित संदीप को हम गिरफ्तार कर चुके हैं, और अन्य आरोपितों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर लेंगे।”

प्रदेश के डीजीपी मनोज यादव ने कहा कि प्रथम दृष्टया जो बात सामने आ रही है उसके मुताबिक, दोनों पुलिसवालों की हत्या किसी धारदार हथियार से की गई लगती है। पोस्टमार्टम की पूरी रिपोर्ट में हत्या का खुलासा होगा। इस मामले में दो युवतियों की भी गिरफ्तारी हुई है।

जानकारी के मुताबिक अज्ञात बदमाशों ने दोनों पुलिस कर्मचारियों की चौकी से करीब 500 मीटर दूर बंद हरियाली सेंटर के निकट हत्या कर दी। दोनों पुलिसकर्मियों की हत्या की जानकारी तब मिली जब सुबह दोनों के शव सड़क किनारे पड़े मिले। सूचना मिलते ही एसपी जशनदीप सिंह रंधावा, बरोदा थाना के एसएचओ सहित विभिन्न थानों व क्राइम इंवेस्टिगेशन एजेंसी के पुलिस अधिकारी मौके पर पहुँचे। अधिकारी घटना को लेकर विभिन्न पहलुओं को ध्यान में रखते हुए जाँच कर रहे हैं।

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker