मरीजों की स्क्रीनिंग करते समय खुद कोरोना का शिकार हुआ युवा डॉक्टर, वीडियो बनाकर कहा- मजाक नहीं है वायरस

इस्‍लामाबाद। कोरोना वायरस (Coronavirus) का सबसे अधिक शिकार स्वास्थ कर्मी हो रहे हैं। मरीजों का इलाज करते-करते ये कब संक्रमण का शिकार हो जाते हैं, उन्हें इसका पता ही नहीं चलता। ऐसा ही एक मामला उत्तरी पाकिस्तान (Pakistan) के गिलगित-बाल्टिस्तान (Gilgit-Baltistan) में युवा डॉक्टर ओसामा रियाज का सामने आया है। वह मरीजों की स्क्रीनिंग करते समय खुद कोरोना वायरस के चपेट में आ गए।

Loading...

डॉ.ओसामा रियाज में कुछ दिन पहले ही कोरोना वायरस के संक्रमण की पुष्टि हुई थी। गिलगित-बाल्टिस्तान (Gilgit-Baltistan) में कोरोना से होने वाली यह पहली मौत है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कोरोना वायरस का इलाज करते समय डॉ.ओसामा रियाज की मौत हो गई। उन्हें राष्ट्रीय नायक का दर्जा दिया जाएगा।

देश के नायक के खिताब से नवाजा जाएगा

डॉ.ओसामा का संबंध गिलगित-बाल्टिस्तान के इलाके से था। वह गिलगित में जिला हेड क्‍वार्टर अस्‍पताल में शुक्रवार की रात से ही उनकी हालत बेहद खराब थी। उनका इलाज जारी था। उनकी बिगड़ती हालत को देखते हुए उन्‍हें आईसीयू में रखा गया। वह गिलगित में जायरीन की स्‍क्रीनिंग की ड्यूटी पर तैनात थे। इसी दौरान वह खुद भी कोरोना वायरस के शिकार हो गए। गिलगित-बाल्टिस्तान सरकार के प्रवक्ता फैजुल्लाह फिराक ने कहा कि युवा डॉक्‍टर ओसामा रियाज ईरान और अन्य क्षेत्रों से आने वाले लोगों की स्‍क्रीनिंग कर रहे थे। वहीं वह इस वायरस से संक्रमित हो गए।

एक सप्‍ताह पहले दी थी परीक्षा

बीते डेढ़ साल से वे डॉक्टर की प्रैक्टिस कर रहे थे। परिवार की ओर से बताया गया है कि करीब एक सप्ताह पहले ही डॉक्टरी की एक अहम परीक्षा भी पास की थी। कुछ दिन पहले जब उनसे कहा गया था कि वह एहतियात से काम लें और वायरस से बचाव की हर कोशिश करें तो डॉ. ओसामा का जवाब था कि जिंदगी और मौत अल्‍लाह के हाथ में है। अपनी परवाह किए बगैर वह लोगों के इलाज में जुटे रहे, जिससे वह संक्रमित हो गए।

अंतिम सलाम
ट्विटर पर लोगों ने डॉ. उसामा को श्रद्धांजलि देते हुए अंतिम सलाम दिया है, जिसमें लोगों ने कहा कि इस बुरे दौर में इंसानियत को जिंदा करने वाले उसामा को सलाम,  तो कई लोगों ने अलग-अलग शब्दों के जरिये उन्हें श्रद्धांजलि दी है। आपको बता दें कि खबर लिखे जाने तक भारत से ज्यादा बुरा हाल पाकिस्तान का है, अब तक कोरोना की चपेट में आने वाले लोगों की संख्या 800 से ज्यादा हो चुकी है।

लोग कह रहे हीरो
सोशल मीडिया पर लोग पाकिस्तानी डॉक्टर को असली हीरो बता रहे हैं, उनकी तस्वीर पोस्ट कर उन्हें श्रद्धांजलि दी जा रही है, इसके साथ ही एक वीडियो भी सामने आया है,  जिसके बारे में कहा जा रहा है कि उसामा अंतिम संदेश दे रहे हैं, पहले कहा जा रहा है कि कमजोर दिल वाले वीडियो ना देखें, इस वीडियो में वो कह रहे हैं कि अपने परिवार को बचाने के लिये अपने घरों में ही रहें। कोरोना कोई मजाक नहीं है, ये बहुत बुरा वायरस है, परिवार के लिये, कौम के लिये, अपने आसपास के लोगों के लिये प्लीज अपने घर में ही रहें।

Loading...
loading...
E-Paper
Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker