अगर आप भी सोते हैं 8 घंटे से ज्यादा तो हो जाए सावधान, बढ़ सकता है दिल की बीमारी का खतरा

सोना सभी को पसंद है लेकिन इससे होने वाली बीमारियों के बारे में शायद काफी लोगों को नहीं पता है। ज्यादा सोने से दिल की बीमारी का खतरा हो सकता है। जो लोग दस घंटे से ज्यादा सोते हैं उनमे दोगुना और जो लोग पांच या उससे कम घंटे की नींद लेते हैं  उनमें 52 प्रतिशत दिल के दौरे का खतरा बढ़ जाता है। इस लिए जरूरत से ज्यादा न सोएं।

एक रिपोर्ट के अनुसार यह सामने आया की 40 से 69 वर्ष की उम्र के लोगों के बीच 4,61,000 ब्रिटिश वयस्कों पर यह अध्ययन किया। उन्होंने सभी प्रतिभागियों की सात साल तक आनुवांशिक जानकारी, नींद की आदतों और मेडिकल रिकॉर्ड की जांच की।

इसमें पाया गया कि धूम्रपान न करने वाले ऐसे लोग जो व्यायाम करते हैं और उनको हृदय रोग की कोई आनुवांशिक बीमारी नहीं है, अगर वे कम नींद लेते हैं

या बहुत अधिक सोते हैं तो इससे उनको भी दिल का दौरा पड़ने की संभावना बढ़ जाती है। ये निष्कर्ष अमेरिकन कॉलेज ऑफ कॉर्डियोलॉजी के जर्नल में प्रकाशित हुए हैं।

कोलोराडो यूनिवर्सिटी द्वारा किए गए नए शोध में पता चला है कि एक तरफ, बहुत अधिक सोने से शरीर में सूजन बढ़ सकती है। वहीं दूसरी ओर बहुत कम सोने से ऊतक क्षतिग्रस्त हो सकते हैं

और खराब खान-पान की आदतों को बढ़ावा मिलता है, जो दिल के दौरे का खतरा बढ़ाते हैं। अध्ययन के लेखक डॉ. सेलीन वैटर ने कहा, इस अध्ययन से सबसे मजबूत सबूत मिलते हैं।

एक स्टडी में यह पता चला जो लोग 6 से 9 घंटे की नींद की तुलना में 6 घंटे से भी कम सोने वालों को दिल का दौरा पड़ने का खतरा अधिक हो सकता है।

वहीं, रात में 9 घंटे से अधिक सोने वालों में यह 34 प्रतिशत अधिक होने का खतरा हो सकता है। आपको बता दें, जो लोग रात में 6 से 9 घंटे की नींद लेते हैं उनमे यह खतरा 18 फीसदी कम हो सकता है।

Back to top button
E-Paper