असम-मिजोरम बॉर्डर पर 6 जवान मारे गए, जानें जमीन विवाद की ये बड़ी बातें

गुवाहाटी: मिजोरम से लगती सीमा पर हुई हिंसा में असम पुलिस के छह अधिकारी मारे गए. असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने यह जानकारी दी. केंद्रीय गृहमंत्री ने इस मामले पर मिजोरम और असम दोनों राज्यों के मुख्यमंत्री से बात की और उनसे विवाद का शांतिपूर्ण समाधान सुनिश्चित करने को कहा.

बता दें, असम के कछार जिले और मिजोरम के कोलासिब जिले के सीमावर्ती इलाके से गोलीबारी और सरकारी वाहनों पर हमले की खबरें हैं. दोनों राज्यों ने केंद्र सरकार से इस मामले में दखल की मांग की थी.

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  1. असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट किया था, ‘मुझे यह सूचित करते हुए बहुत दुख हो रहा है कि असम-मिजोरम सीमा पर हमारे राज्य की संवैधानिक सीमा की रक्षा करते हुए असम पुलिस के छह बहादुर जवानों ने अपने प्राणों की आहुति दी है. शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना.’
  2. मिजोरम ने कहा कि हिंसा तब शुरू हुई जब असम पुलिस ने सीमा पार की और दोनों राज्यों की पुलिस के बीच समझौते का उल्लंघन करते हुए कोलासिब में एक पुलिस चौकी पर पहुंच गए. मिजोरम ने यह भी कहा कि असम पुलिस ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर वाहनों को नुकसान पहुंचाया और राज्य पुलिस पर गोलियां चलाईं.
  3. मिजोरम के गृह मंत्री लालचमलियाना ने कहा, ‘असम सरकार के अन्यायपूर्ण कृत्य की मिजोरम सरकार कड़ी निंदा करती है.’
  4. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के शिलॉंग में पूर्वोत्तर राज्यों के सभी मुख्यमंत्रियों से मुलाकात के दो दिन बाद यह हिंसा हुई. न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि अमित शाह ने सोमवार को दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों को फोन किया और सीमा मुद्दे का समाधान करने के लिए कहा.
  5. इससे पहले, सरमा और मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरमथंगा ट्विटर पर भिड़ गए. दोनों ने हिंसा के वीडियो पोस्ट किए और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह से हस्तक्षेप की मांग की.
  6. असम के मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, ‘कोलासिब (मिजोरम) के पुलिस अधीक्षक हमसे अपनी चौकियों से हट जाने के लिए कह रहे हैं, अन्यथा उनके नागरिक न तो सुनेंगे, न ही हिंसा रोकेंगे. इस तरह की परिस्थितियों में हम सरकार कैसे चलाएंगे? उम्मीद है अमित शाह, प्रधानमंत्री कार्यालय जल्द से जल्द हस्तक्षेप करेंगे.’
  7. सीएम जोरमथंगा ने कुछ वीडियो पोस्ट करते हुए जवाब दिया, यह वीडियो नेशनल हाइवे पर निशाना बनाई गई एक कार का था. उन्होंने कछार से मिजोरम लौट रहे एक ‘‘निर्दोष दंपति” पर कथित हमले की बात कही. उन्होंने पूछा, ‘‘इन हिंसक कृत्यों को आप कैसे उचित ठहरा सकते हैं?”
  8. मिजोरम के तीन जिले – आइजोल, कोलासिब और ममित – असम के कछार, हैलाकांडी और करीमगंज जिलों के साथ 164.6 किलोमीटर लंबी अंतर-राज्यीय सीमा साझा करते हैं.
  9. इस क्षेत्र में दशकों से झड़पें होती रही हैं. स्थानीय लोग और सुरक्षा बल एक-दूसरे पर घुसपैठ का आरोप लगाते रहे हैं. आखिरी घटना जून में हुई थी.
  10. सीमा के सीमांकन से निपटने के लिए मिजोरम सरकार ने एक सीमा आयोग का गठन किया है. असम का मेघालय और अरुणाचल प्रदेश के साथ भी सीमा विवाद है.
Back to top button
E-Paper