करवाचौथ पर भूलकर भी ना करे ये काम, नहीं मिलेगा फल…

सुहागिन महिलाये अपने पति की लम्बी उम्र की कामना के लिए सिन्दूर लगाती है, साथ ही सुहाग की निशानी मंगलसूत्र को गले में धारण करती है | इतना ही नहीं सुहागिन महिलाये अपने पति की लम्बी उम्र और सलामती के लिए करवा चौथ का व्रत भी रखती है | हिन्दू धर्म में सुहागिन महिलाओ के लिए करवा चौथ का बड़ा महत्व है | प्रत्येक विवाहित महिला अपने पति की लम्बी उम्र के लिए ये व्रत अवश्य रखती है | हालाँकि इस व्रत को रखने के दौरान कुछ सावधानी और कुछ बातो का ध्यान भी रखा जाना चाहिए | अन्यथा व्रती महिलाओ को इसका फल प्राप्त नहीं होता है | ऐसे में आज हम आपको उन जरुरी बातो के बारे में बताने जा रहे है |

ना करे इसका दान

करवाचौथ के दिन सुहागिन महिलाये भूलकर भी उजले वस्त्र या भूरे और काले रंग के कपड़े न पहने | साथ ही इस दिन सफ़ेद रंग की चीजे, जैसे दूध, दही, चावल और सफ़ेद वस्त्रो का दान ना करे | साथ ही इस दिन आप बड़ो का आशीर्वाद अवश्य ले | आपको मिला आशीर्वाद पति की आयु को बढ़ता है |

मन में ना लाये ये ख्याल

करवाचौथ के दिन व्रती महिलाये भूलकर भी मन में किसी अन्य पुरुष के बारे में कोई ख्याल ना लाये | साथ ही किसी अन्य महिला के बारे में अपशब्द या भला बुरा ना कहे |

कूड़े में ना फेंके ये वस्तुए

करवाचौथ के दिन सुहागिन महिलाये सुहाग की चीजे जैसे बिंदी, चूड़ी, सिन्दूर को कूड़े में ना फेंके | ऐसा करना अशुभ फल देता है | यदि आपसे गलती से चूड़ी या सुहाग की कोई वस्तु टूट गयी है, तो आप उसे नदी, तालाब में प्रवाहित कर दे | प्रवाहित करने के बाद अपने सुहाग की लम्बी आयु की कामना अवश्य करे |

ना करे ये काम

करवा चौथ के दिन व्रती महिलाये सिलाई, कढ़ाई और कटाई का काम ना करे | कैंची का प्रयोग करने से बचे | इसके अलावा कई महिलाये समय बिताने के लिए ताश खेलने लगती या सो जाती है | इस दिन आप ऐसा कोई काम ना करे | हां वैसे इस दिन आप पैराणिक कथाये सुने, भजन कीर्तन करे |

पति भी करे इस नियम का पालन

करवाचौथ के दिन आप भूलकर भी मांस मच्छी जैसे तामसिक भोजन का सेवन ना करे | इस नियम का पालन केवल महिलाये ही नहीं उनके पति भी करे | ऐसा माना जाता है कि इस नियम का पालन ना करने से व्रत का फल प्राप्त नहीं होता है | इसीलिए आप सात्विक भोजन का ही सेवन करे |

Back to top button
E-Paper