कानपुर : दलित युवक की हत्या पर गाँव में तनाव, कई थानों की फोर्स तैनात

कानपुर। (आरएनएस ) चौबेपुर थाना क्षेत्र के पनउपुरवा गांव में सोमवार की रात बच्चों के विवाद को लेकर तीन माह से चली आ रही रंजिश में दो पक्षों में जमकर संघर्ष हो गया मारपीट में चापड़ से वार होने पर एक दलित युवक की मौत हो गई। घटना को लेकर गांव में तनाव व्याप्त है। इधर,एसपी आउटर भारी फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे। क्षेत्रीय विधायक ने दो सिपाहियों व बीट प्रभारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की बात कही है।

चौबेपुर के पनऊपुरवा निवासी किशन त्रिवेदी व घर के सामने रहने वाले आनंद कुरील के बीच करीब तीन माह से बच्चों के विवाद के बाद रंजिश चली आ रही थी इस बीच करीब दो बार झगड़ा भी हुए लेकिन पुलिस ने कोई कड़ी कार्रवाई नहीं की। यही कारण रहा कि सोमवार की रात किशन त्रिवेदी व उनके परिवार के आधा दर्जन लोगों ने घर के सामने रहने वाले आनंद कुरील के घर पर धावा बोल दिया। हमले में गंभीर घायल होने से आनंद कुरील उनके बेटे अमित भाई रवि शंकर पत्नी आशा देवी बहु संगीता अनुराधा घायल हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस के सामने भी दबंग हमलावरों ने जमकर पथराव किया और घटना के बाद मौके पर पहुंची फोर्स ने गंभीर हालत में आनंद को लेकर हैलट पहुंची जहां, उपचार के दौरान की मौत हो गई। इधर मंगलवार को सुबह होते ही घटना को लेकर गांव में तनाव फैल गया। क्षेत्रीय विधायक भगवती सागर गांव पहुंचकर धरने पर बैठ गए। उन्होंने दो उप निरीक्षकों व दो सिपाहियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने की मांग की। एसपी आउटर ने कार्रवाई की सहमति जताने पर परिवार वाले शांत हो गए शाम तक शव पहुंचने के पहले बवाल की आशंका के चलते कई थानों का फोर्स गांव में तैनात किया गया है। एसपी आउटर ने उपनिरीक्षक गोपी किशन व शेर बहादुर को लाइन हाजिर कर दिया है।

Back to top button
E-Paper