खाकी की सख्ती से पकड़ गया पांच हजार का इनामी बदमाश शानू उर्फ गोल्टा

शहजाद अंसारी

बिजनौर। गौकशी का आरोपी हिस्ट्रीशीटर और पांच हजार का इनामी शानू उर्फ गोल्टा को किरतपुर पुलिस और सर्विलांस टीम ने सक्रियता दिखाते हुए तमंचे और कारतूस के साथ गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। शानू उर्फ गोल्टा के पकडे जाने से नगीना पुलिस ने राहत की सांस ली है। लेकिन अभी भी बदमाशों को पनाह देने वाले आपराधिक प्रवृत्ति के लोगों और संलिप्तता रखने वाले भ्रष्ट पुलिसकर्मियों पर कार्रवाही होना बाकी है।

   जानकारी के अनुसार नगीना थाना क्षेत्र के हिस्ट्रीशीटर पांच हजार का ईनामी कुख्यात बदमाश शानू उर्फ गोल्ट पिछले काफी समय से नगीना पुलिस के लिए सरदर्द बना हुआ था। नगीना पुलिस के तेजतर्रार कोतवाल संजय धीर उसे पकड़ने के लिए दिन रात एक किये हुए थे लेकिन नगीना के कुछ भ्रष्ट पुलिसकर्मियों के संरक्षण के चलते शानू गोल्टा बचता घूम रहा था। क्योंकि लगभग डेढ माह पूर्व कस्बा कोटरा में शानू अपने गैंगलीडर वसीम चीची के साथ अफसार पुत्र अबरार के यहां पनाह लिये हुए था पुलिस ने जब उसके मकान पर छापा मारा तो सूचना लीक होने के कारण पुलिस के सामने ही वसीम और शानू फरार होने में कामयाब हो गये थे लेकिन अफसार पकड़ा गया था अफसार थाने में कोई राज उगलता उससे पहले ही मोटा फीलगुड करके हल्का दारोगा विनोद ने उसे छोड़ दिया था जबकि विनोद दारोगा के संज्ञान में था कि कई माह से कस्बा कोटरा के जंगल में अपने साथियों के साथ अफसार और शानू व गैंग लीडर वसीम की सरपरस्ती में गौकशी की घटनाओं को लगातार अंजाम देते रहे है। पुलिस अधिकारियों को गुमराह करने वाले दरोगा विनोद कुमार की करतूत का अधिकारियों को पता लग गया है।

फिलहाल अफसार पर नगीना पुलिस के दारोगा विनोद कुमार की दरियादिली अपने आप में चर्चा का विषय बनी हुई है। सुत्रों के अनुसार अफसार तक नगीना पुलिस के हाथ पहुंच गए है जल्द ही पुलिस गिरफ्त में आते ही अफसार कई अपराधियों के राज उगलेगा। पुलिस अधीक्षक संजीव त्यागी के वारंटी/वांछित/जिला बदर घोषित अपराधियों के विरुद्ध अभियान चलाने के निर्देश के बाद सक्रिय हुई पुलिस ने सीओ नजीबाबाद परवीन कुमार सिंह के पर्यवेक्षण में चलाए जा रहे चेकिंग अभियान पांच हजार के इनामी बदमाश शानू उर्फ गोल्टा पुत्र तसलीम को किरतपुर थाना क्षेत्र के ग्राम हुसैनपुर तिराहे पर थाना प्रभारी किरतपुर सतेंद्र कुमार] 

एसआई धर्मेंद्र सिंह व सर्विलांस टीम के प्रभारी राजेश सोलंकी] एसआई मनोज परमार की टीम ने शुक्रवार उसे एक तमंचा और दो कारतूस के साथ गिरफ्तार किया। सीओ परवीन कुमार सिंह ने बताया कि शानू उर्फ गोल्टा पर विभिन्न थानों में 21 मुकदमें चल रहे हैं इस शातिर पर नगीना में गौकशी व पुलिस मुठभेड़ में वांछित चल रहे आतंक का पर्याय बने शानू उर्फ गोल्टा की गिरफ्तारी के बाद जहां नगीना पुलिस ने राहत की सांस ली है। वही शानू को संरक्षण देने वाले भ्रष्ट पुलिसकर्मियों व आपराधिक किस्म के लोगों में हड़कम्प मच गया है।

Back to top button
E-Paper