गोरखपुर में ग्राम पंचायत सेक्रेटरी की दिनदहाड़े हत्या, बाइक सवार चार बदमाशों ने चापड़ से किए वार


गोरखपुर। जिले में नकाबपोश चार बदमाशों ने ग्राम पंचायत सिक्रेटरी की धारधार हथियार से वार कर उसकी हत्या कर दी। ग्राम पंचायत सिक्रेटरी अनीश चौधरी शनिवार को एक बिल्डिंग मैटेरियल की दुकान पर बकाया पैसे को लेकर हिसाब करने गए थे। तभी दो बाइक पर सवार चार नकाबपोश बदमाशों ने चाकुओं से हमला कर दिया। आसपास के लोग उस तरफ दौड़े तो हमलावर फरार हो गए। अस्पताल ले जाते वक्त युवक की मौत हो गई।

घटना गोला इलाके के गोपालपुर में शनिवार दोपहर की है। सूचना पर पहुंची पुलिस के साथ ही एसपी साउथ और एसडीएम गोला भी मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने मौके पर हलमा में प्रयुक्त हथियार बरामद कर लिया है और मामले की पड़ताल में जुट गई है। हालांकि फिलहाल घटना की वजह पता नहीं चल सकी है।

हत्या को ऑनर किलिंग से जोड़कर देखा जा रहा है। अनीश के भाई व पूर्व प्रधान अनिल ने अनीश के ससुरालवालों पर हत्या का आरोप लगाया है। अनीश ने साथ काम करने वाली गैर बिरादरी की लड़की से लव मैरेज किया था। उसके बाद से ही दोनों परिवारों में दुश्मनी थी और पहले भी इनके ऊपर हमला हो चुका था।पुलिस के मुताबिक गोला थाना क्षेत्र के उनौली गांव निवासी पूर्व ग्राम प्रधान अनिल के भाई व उरूवा ब्लाक में तैनात सिक्रेटरी अनीश चौधरी उर्फ पिंटू अपने गांव के एक व्यक्ति के साथ शनिवार की दोपहर में कार से गोपलापुर चौराहे पर स्थित एक बिल्डिंग मैटेरियल की दुकान पर बकाया पैसे को लेकर हिसाब करने गए थे। वह दुकान पर हिसाब-किताब कर ही रहे थे कि इस बीच कोई फोन आया और बात करते हुए दुकान के बाहर सड़क पर आ गए। इस बीच उरूवा की तरफ से दो बाइक पर सवार चार बदमाश आए और अनीश के ऊपर धारदार हथियार से हमला कर दिए। बाइक चला रहे दोनों हमलावर हेलमेट लगाए थे तो वहीं पीछे बैठे बदमाश चेहरा बांधे हुए थे उन्होंने अपने हाथ में (दांव) धारदार हथियार लिया था। 

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक हमलावरों ने धारदार हथियार से अनीश के ऊपर ताबड़तोड़ हमला कर दिया। चौराहे पर हुई सरेआम घटना के वक्त कोई उन्हें बचाने की हिम्मत नहीं जुटा पाया, बल्कि लोग तमाशा देखते रहे। हमलावरों ने अनीश के सिर, गले व सीने पर कई वार कर मरा समझ कर फरार हो गए। घायल अनीश सड़क पर गिर पड़े रहे। उधर, हलावारों ने हत्या में इस्तेमाल एक धारदार हथियार को मौके पर तथा दूसरे को पास की झाड़ी में फेंककर उरूवा की तरफ ही फरार हो गए। अनीश को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र गोला ले जाया गया। हालात गंभीर होने पर डॉक्टरों ने जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जहां उनकी मौत हो गई। अनीश के भाई पूर्व ग्राम प्रधान अनिल ने बताया कि मेरे भाई ने प्रेम विवाह किया था। इससे लड़की पक्ष के लोग नाराज थे। उन्हीं लोगों ने हमला किया है। मौके पर जांच कर रहे कोतवाल सुबोध कुमार ने बताया कि घटनास्थल के आस-पास के सभी सीसीटीवी फुटेज की जांच की जा रही है। जल्दी ही घटना में शामिल लोगों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Back to top button
E-Paper