नए एयरपोर्ट टर्मिनल का काम अधूरा : शासन के निर्देश पर तीन महीने बढ़ाई गई डेडलाइन

कानपुर । कानपुर में नए एयरपोर्ट के निर्माण में लगातार देरी हो रही है। 3 बार डेडलाइन बढ़ने के बाद भी काम पूरा नहीं हो पा रहा है। शासन स्तर पर भी नाराजगी जाहिर की जा रही है। 168 करोड़ रुपए से चकेरी एयरपोर्ट का नया टर्मिनल का निर्माण कार्य चल रहा है। सितंबर में कार्य पूरा होना था। अब दिसंबर तक इसकी डेडलाइन बढ़ा दी गई है। चुनाव से पहले सरकार भी इसका लोकार्पण करना चाहती है।

चकेरी एयरपोर्ट की मौजूदा बिल्डिंग में जगह बेहद कम है। फ्लाइट का लोड भी बढ़ता जा रहा है। 15 सितंबर से कानपुर-अमृतसर के बीच भी फ्लाइट शुरू होनी है। स्पासजेट के बाद इंडिगो भी यहां से अक्टूबर में 4 शहरों के लिए फ्लाइट शुरू करने की तैयारी में है। इंडिगो को काउंटर और बोर्डिंग के लिए जगह भी दे दी गई है। कोविड की वजह से नए टर्मिनल का निर्माण कार्य पिछड़ गया था। इसे अभी तक रफ्तार नहीं मिल सकी है। पहले इसका निर्माण जून में पूरा होना था। इसके बाद सितंबर में इसकी डेडलाइन बढ़ाई गई। निर्माण कार्य अभी तक 60 परसेंट तक पूरा हो पाया है। दिसंबर तक कार्य पूरा होने की उम्मीद नहीं दिख रही है।

मौजूदा एयरपोर्ट से डेढ़ किमी मवइया के पास नए टर्मिनल बनाया जा रहा है। 6218 स्क्वायर मीटर में इसका निर्माण किया जा रहा है। वहीं नए टर्मिनल से कानपुर-प्रयागराज हाईवे को कनेक्ट करने के लिए फोर लेन रोड का निर्माण किया जाना है। इसके लिए 39 करोड़ रुपए का बजट मिल गया है।

Back to top button
E-Paper