पत्‍ता गोभी को रात में ऐसे लगाकर सो जाएं शादीशुदा महिला, सुबह मिलेगा आराम

महिलाओं की समस्‍या का तो हम सभी को पता है वो अपनी जिम्‍मेदारी में इतना खो जाती हैं कि उन्‍हें अपने स्‍वास्‍थ पर ध्‍यान देने का समय नहीं मिल पाता है। साथ ही वो अपने लिए सोच भी नहीं पाती है। शारीरिक रूप से पुरूषों से कमजोर होने के बावजूर वो हजार गुना ज्‍यादा काम काम का भार अपने सिर लिए रहती है। आज हमे उन्‍हीं के लिए कुछ विशेष उपाय लेकर आए हैं। जो कि बेहद आसानी से आजमाया जा सकता है।

पत्ता गोभी को बंद गोभी के नाम से भी जाना जाता है। फूल गोभी, ब्राकोली, ब्रसेल्ज़ स्प्राउट और पत्ता गोभी ये सभी सब्जियां एक ही प्रजाति में आती है। पत्ता गोभी को कच्चा सलाद के तौर पर भी खाया जाता हैं। ये हमारे सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता होता है। क्‍योंकि इसमें भरपूर मात्रा में न्यूट्रियेंट्स और प्रोटीन होता है और साथ में फाइबर की मात्रा बहुत ज्‍यादा पाई जाती है, यह डाइटिंग करने वालों के लिए बहुत ही फायदेमंद साबित होता है। अगर आप अच्छी सेहत के साथ साथ आकर्षक लुक पाना चाहते हैं तो अपनी डाइट में पत्ता गोभी ज़रूर शामिल करे। पत्ता गोभी हमारे शरीर से बिमारीयों को दूर करने में मदद करता है।

  1. सिर दर्द :

आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव के कारण हर समय सिर में दर्द होना आम बात है। लेकिन पत्ता गोभी आपको इस सिरदर्द से निजात दिला सकता है अगर आप पत्ता गोभी के पत्तों को रात भर अपने सिर पर रख कर किसी चीज से ढ़ककर सो जाएं तो आपका दर्द गायब हो जाएगा।

  1. घाव पर सूजन:

अगर आपको जोड़ों पर चोट लगी है और वहां सुजन हो रही हो तो पत्ता गोभी के पत्ते आपके लिए रामबाण उपाय है। सुजन वाली जगह पर अगर आप पत्ता गोभी के फ्रेश पत्ते को लपेट का उसे बैंडेज की तरह बांध लें तो आपका सूजन खत्‍म हो जाएगा।

  1. थायरॉयड ग्रंथि:

थायरॉयड ग्रंथि जो कि गले के निचले भाग में होती है। ये ग्रंथि पाचन तन्त्र के लिए हार्मोन्स पैदा करने का काम करती है। अगर ये ग्रंथि सही से काम नहीं कर रहा या और कोई भी परेशानी है तो उसके लिए आप पत्ता गोभी के पत्तों को रात में गर्दन पर लपेट लें और उसे किसी चीज से डक लें।

  1. स्तनपान से दर्द :

कई बार महिलाओं को स्तनपान की वजह से काफी दर्द महसूस होता है। इस दर्द का निवारक भी पत्ता गोभी ही है। इसके फ्रेश पत्तो को अपने स्तन से लगा कर रखे जब तक के दर्द ठीक नहीं हो जाता।

Back to top button
E-Paper