पाक में हिंदू लड़की कविता कुमारी का अपहरण कर जबरन इस्‍लाम कबूल कराया-Video Viral

कराची
कोरोना वायरस महासंकट के बावजूद पाक‍िस्‍तान में हिंदुओं के साथ अत्‍याचार, मासूम बच्चियों के अपहरण और धर्मपरिवर्तन का गंदा खेल रुकने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला सिंध प्रांत के घोटकी इलाके के बारझुंडी का है। लड़की का नाम कविता कुमारी बताया जा रहा है। सिंध प्रांत में धर्म परिवर्तन की फैक्‍ट्री चलाने वाले मियां मिट्ठू ने कविता का धर्म परिवर्तन करके इस्‍लाम कबूल कराया है।

पाकिस्‍तानी मानवाधिकार कार्यकर्ता राहत ऑस्टिन के मुताबिक कविता का पहले मुस्लिम कट्टरपंथियों ने अपहरण किया और बाद में उसे मियां मिट्ठू के पास ले गए। मियां मिट्ठू ने जबरन कविता को इस्‍लाम धर्म कबूल कराया। इस घटना के बाद पाकिस्‍तान के हिंदू समुदाय में काफी गुस्‍सा है। मियां मिट्ठू को पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का करीबी बताया जाता है। इमरान अक्‍सर मियां मिट्ठू से मुलाकात करते रहते हैं। यह वही इमरान खान हैं जिन्‍होंने पाकिस्‍तान को ‘रियासत-ए-मदीना’ बनाने का वादा किया था। मियां मिट्ठू अब तक 1000 से ज्‍यादा अल्‍पसंख्‍यक बच्चियों का धर्म परिवर्तन करा चुका है।

ऑस्टिन कहते हैं कि मिट्ठू मियां के रसूख का अंजादा इस बात से लगाया जा सकता है कि पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान उसे अपना प्रेरणास्रोत बताते हैं। पाकिस्‍तान में सबसे शक्तिशाली कहे जानी वाली सेना के प्रमुख कमर जावेद बाजवा खुद उससे मिलने जाते हैं और उसे पैसे देते हैं। मियां मिट्ठू की अपनी प्राइवेट आर्मी है और उसके ‘हरम’ में बड़ी संख्‍या में लड़कियां ‘सेक्‍स स्‍लेव’ के रूप में रहती हैं जो उसके अतिथियों को ‘खुश’ करने का काम करती हैं।

मौलवी मिट्ठू मियां कराता है धर्म परिवर्तन
उन्‍होंने कहा क‍ि पाकिस्‍तान में धर्म परिवर्तन के इस खेल को बेहद सुनियोजित तरीके से पाकिस्‍तान सरकार चला रही है। पाकिस्‍तान सरकार कट्टरपंथियों को आर्थिक, कानूनी और प्रशासनिक मदद देती है। सिंध प्रांत में धर्म परिवर्तन और मासूम बच्चियों के निकाह की इस फैक्‍ट्री को मौलवी मिट्ठू मियां या पीर अब्दुल हक आका चलाता है जो घोटकी में भारचुंडी दरगाह में रहता है। पाकिस्तान के इस इलाके और इसके आस-पास के इलाकों में से अगर कोई भी लड़की इस्लाम कबूल करती है तो वह मिट्ठू मियां के पास पहुंच जाती है। मिट्ठू मियां बच्चियों का धर्म परिवर्तन कराता है और उनका निकाह करवा देता है।

पिछले दिनों पाकिस्‍तान के सिंध प्रांत के जकोकाबाद में रहने वाली नाबालिग हिंदू बच्‍ची महक चौधरी का मामला पूरी दुनिया में सुर्खियों में बना हुआ था। गत 16 जनवरी को 28 साल के अली राजा सोलांगी ने 15 साल की मेहक चौधरी का उसके घर से अपहरण कर लिया और स्‍थानीय दरगाह में लेकर जाकर उन्‍हें जबरन इस्‍लाम धर्म कबूल कराया और फिर निकाह कर लिया। जिस दरिंदे अली राजा ने मासूम का अपहरण किया था, वह पहले से ही शादीशुदा है और उसके 4 बच्‍चे हैं। इस घटना के खिलाफ लंदन से लेकर दिल्‍ली तक में विरोध प्रदर्शन हुआ लेकिन इमरान सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंगी।

Back to top button
E-Paper