बिहार में होने वाले विधान परिषद को लेकर एनडीए और महागठबंधन में सीटों को लेकर मचा घमासान, पढ़े पूरी खबर

बिहार में होने वाले विधान परिषद एवं विधानसभा उपचुनावों को लेकर एनडीए और महागठबंधन में सीटों को लेकर घमासान मचा है। एक ओर राजद और कांग्रेस में जुबानी जंग छिड़ी हुई है तो इधर एनडीए के घटक दल में भी एक राय नहीं है। पूर्व सीएम और हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा (HAM) की पार्टी ने इस बीच सीतामढ़ी और गया सीट पर दावा कर दिया है। कहा है कि हर हाल में दो सीटें हमें चाहिए। 

हम के प्रवक्‍ता ने दो सीटों पर किया दावा 

वीडियो जारी कर हम के प्रवक्‍ता दानिश रिजवान ने कहा कि 24 सीटों पर होने वाले विधान परिषद चुनाव को लेकर सभी राजनीतिक दलों ने कमर कस ली है। लेकिन एनडीए में अभी तक कोई निर्णय नही हुआ है। यह चिंता का विषय है। हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा दो सीटों पर अपना उम्‍मीदवार उतारने को इच्‍छुक है। एनडीए  के शीर्ष नेतृत्‍व से अनुरोध है कि हमारी जायज मांग को देखते हुए हमें सीतामढ़ी और गया सीट सीट दी जाए। दोनों सीटों पर हमारी पार्टी उम्‍मीदवार उतारेगी। एनडीए नेतृत्‍व के सामने अपनी बातें रख दी हैं। किसी हाल में दो सीट लेकर अपना उम्‍मीदवार हम उतारेंगे।  

उपेंद्र कुशवाहा दे चुके हैं फिफ्टी-फि‍फ्टी का फार्मूला

बता दें कि जदयू संसदीय दल के अध्‍यक्ष उपेंद्र कुशवाहा पहले ही कह चुके हैं कि पुराना अनुपात फिफ्टी-फ‍िफ्टी का है। इस चुनाव को लेकर अंतिम रूप से बात होगी तब कुछ बता सकेंगे। जब तक नया कोई निर्णय नहीं हो, तब तक पहले का ही नियम लागू रहता है। नया निर्णय तो हुआ नहीं है। इससे बीजेपी का नुकसान होगा, कुशवाहा ने कहा कि नुकसान और फायदे की बात नहीं है, दोनों पार्टी बैठकर तय करेगी। मालूम हो कि यूपी विधानसभा चुनाव को  लेकर जदयू और भाजपा में अभी तक कुछ फाइनल नहीं हो सका है। ऐसे में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ी हुई है। सभी को इंतजार है कि एनडीए के किस दल को कितनी सीटें मिलती है।   

Back to top button
E-Paper