बॉम्ब साइक्लोन से जूझ रहा कैलिफोर्निया, आसमान में दिखा खतरनाक वायुमंडलीय नदी का बहाव

सैक्रामेंटो (ईएमएस)। कैलिफोर्निया इस समय बॉम्ब साइक्लोन से जूझ रहा है। इस साइक्लोन की वजह से कैलिफोर्निया और उसके आसपास के इलाके के ऊपर आसमान में पांचवीं श्रेणी की खतरनाक वायुमंडलीय नदी का बहाव देखा जा रहा है। जिसकी वजह से तेज बारिश हो रही है। कई स्थानों पर कई फीट ऊंची बर्फ गिर रही है।

कैलिफोर्निया ने इस बॉम्ब साइक्लोन से पहले जंगली आग, प्रचंड सूखा, भयानक गर्मी, बाढ़, भूस्खलन से जूझ चुका है। अब आप सोच रहे होंगे कि ये बॉम्ब साइक्लोन शब्द कहां से आया। असल में जब बम विस्फोट की तरह मौसम में तेजी से परिवर्तन हो तब वैज्ञानिक उसे बॉम्बोजेनेसिस कहते हैं। ऐसे साइक्लोन तब आते हैं जब उस जगह के ऊपर वायुमंडल के मध्य में तूफान कम से कम 24 घंटे के लिए 24 मिलिबार्स तक स्थित रहे। मिलिबार्स वायुमंडलीय दबाव को मापने की यूनिट है।
बॉम्ब साइक्लोन के साथ बड़ी दिक्कत यह हो गई है कि यह कैलिफोर्निया के ऊपर बनी वायुमंडलीय नदी के साथ मिल गया है। जिससे इसकी ताकत और बढ़ गई है। वायुमंडलीय नदी यानी असल में आसमान में तेजी से बहने वाली नमी वाली हवा होती है। यह कई बार हरिकेन और कई बार टॉरनैडो का रूप ले लेती हैं। अगर इसे पांचवीं श्रेणी में रखा गया है तो इसका मतलब यह है कि काफी तबाही मच सकती है। कैलिफोर्निया डिपार्टमेंट ऑफ वॉटर रिसोर्सेज के अनुसार पांचवीं श्रेणी की वायुमंडलीय नदी और बॉम्ब साइक्लोन की वजह से बारिश के साथ तेज हवाएं, बाढ़, कचरे का बहाव, भूस्खलन, अचानक से बाढ़ आना जैसी दिक्कतें एकसाथ या एक-एक करके आ सकती हैं।

सैक्रामेंटो में नेशनल वेदर सर्विस (एनडब्ल्यूएस) ने 24 अक्टूबर को तेज बारिश, बाढ़ जैसी आपदाओं के लिए चेतावनी जारी की थी। एनडब्ल्यूएस के मुताबिक अपने ट्विटर हैंडल से कहा था कि पूरे दिन तेज बारिश हो सकती है। तेज हवाएं चलेंगी। शहर में खुले में मौजूद कचरा इन हवाओं और बारिश के साथ सड़कों पर बहता दिखाई देगा। सड़कों पर पानी भरने का खतरा है। इसलिए लोगों को घरों में ही रहने की चेतावनी दी गई है।

द वॉशिंग्टन पोस्ट के मुताबिक मध्य और उत्तरी कैलिफोर्निया में भूस्खलन का खतरा ज्यादा है। पिछले हफ्ते सैक्रामेंटों में 19 मार्च के बाद पहली बार बारिश हुई थी। यानी 220 दिनों तक बारिश की एक भी बूंद इस इलाके में नहीं गिरी। अब इस इलाके में आधा फीट पानी सड़कों पर जमा हो रहा है।
उत्तरी कैलिफोर्निया और पैसिफिक नॉर्थ-वेस्ट के इलाके में संभावित टॉरनैडो और हरिकेन की आशंका है। अगर यह नहीं भी आए तो 97 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। इसके अलावा समुद्री लहरें 20 फीट ऊंचाई तक उठ सकती हैं। ये तटों से तेज गति से टकरा सकती हैं, इसलिए लोगों को ऐसे मौसम में समुद्र के किनारे जाने से मना किया गया है। कैलिफोर्निया की खाड़ी, ओकलैंड और आसपास के इलाके में 5 से 8 इंच बारिश की आशंका जताई गई है। इससे सियेरा नेवादा पहाड़ों का रेंज भी अछूता नहीं रहेगा।

Back to top button
E-Paper