भूल से भी ना छुए स्त्री का ये अंग, पछताना पड़ेगा पूरी जिंदगी

भगवान ने दुनिया में बहुत से खूबसूरत चीजे बनाई है जो अपने आप में एक दूसरे से परे है और इन्ही सब में से एक है स्त्री, संसार में स्त्री की अहमियत इस बात से ही पता चलती है की स्त्री के बिना इस दुनिया की कल्पना करना भी नामुमकिन है, स्त्री अपने आप में एक शक्ति है, इसके प्रमाण हमे रामायण और महाभारत में मिलते है इनमे जो युद्ध हुए है वे स्त्रीयो के पीछे ही हुए है, स्त्री घर को बना भी सकती है बिगाड़ भी सकती है, समाज में दो परिवारों का मिलन भी एक स्त्री की वजह से ही होता है |

और इस बात से तो सभी वाकिफ है की खूबसूरती में भी स्त्रीयो का कोई सानी नहीं है यही वजह है की पुरुष स्त्रीओ की अदाओ के पीछे पागल होते है, लेकिन हम एक बात बताने जा रहे है की अगर आप देवी माँ भक्त है और उन्हें पूजते है तो आपको स्त्रीयो के एक अंग को छूने से परहेज रखना बहुत जरुरी है क्योंकि इसे छूना आपको मुसीबत में डाल सकता है |

हिन्दू धर्म में शास्त्रों में स्त्रियों से किस तरह पेश आना चाहिए, किस तरह व्यवहार किया जाना चाहिए इस बारे में विस्तार से वर्णन किया गया है, इसीलिए पुरुष को महिलाओं से संबंध बनाते समय उनकी अनुमति जरूर लेनी चाहिए और उनके साथ सलीके से पेश आना चाहिए लेकिन उनके एक अंग को छूने से बचना चाहिए क्योंकि इस अंग को छूने मात्र से ही काली माता नाराज हो सकती है और कठिनायों में डाल सकती है |

पुरुषो को कभी भी स्त्रीओ पर हुकुम नहीं चलना चाहिए और ना ही जोर जबरदस्ती करनी चाहिए और उनके इच्छा के बिना कभी भी संबंध नहीं बनाना चाहिए उनकी अनुमति मिलने पर ही संबंध बनाने चाहिए लेकिन एक बात का जरूर ध्यान रखे की भूलकर भी उनकी नाभि को ना छुए क्योंकि स्त्रीयो की नाभि में काली माता की शक्तियाँ समाविष्ठ होती है जिस कारण नाभि को छूना माँ काली को कुपित कर सकता है और आप गहरे संकट में पड़ सकते है |

Back to top button
E-Paper