मेरठ में डेंगू ने तोड़ा 5 साल का रिकॉर्ड : जिले में मरीजों की संख्या 940 पहुंची, मचा हड़कंप

मेरठ में डेंगू के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। बुधवार तक जिले में डेंगू के मरीजों की संख्या 940 पहुंच गई। सरकारी आंकडों में ही डेंगू ने पिछले पांच साल का रिकार्ड तोड़ दिया है। सरकारी अस्पतालों से लेकर निजी अस्पतालों में मरीज जूझ रहे हैं। जिले में बुखार से अभी तक 15 लोगों की मौत हो चुकी है।

सरकारी आंकड़ों में 940 मरीज

स्वास्थ्य विभाग के सरकारी आंकड़ों में जिले में डेंगू के मरीजों की संख्या 940 पहुंच गई है। 670 केस रिकवर कर लिए गए हैं। 270 मरीजों का उपचार चल रहा है। डेंगू के जो 270 केस एक्टिव हैं उनमें 104 अस्पताल में भर्ती हैं, बाकी का घर पर उपचार चल रहा है। पिछले पांच साल में डेंगू के मरीजों की इस बार सबसे अधिक संख्या रही है।

मौत होना नहीं मान रहा स्वास्थ्य विभाग

स्वास्थ्य विभाग अपने कारनामें से भी पीछे नहीं हट रहा। जानी, सरधना, सरूरपुर परीक्षितगढ़ ब्लाॅक में बुखार से 15 लोगों की मौत हो चुकी है। लेकिन स्वास्थ्य विभाग अपने आंकड़ों में बुखार से मौत होना नहीं मान रहा। निजी अस्पतालों में भी मरीजों की लाइन लगी हुई हैं।

बेमाैसम बारिश ने बढ़ाई मुसीबत

वरिष्ठ फिजीशियन डॉ. विश्वजीत बेंबी के अनुसार, बेमौसम बारिश ने बहुत मुसीबत बढ़ाई है। पूर्व के सालों को देखें तो अक्टूबर माह में कभी भी इतनी बारिश नहीं हुई। डेंगू का मच्छर अक्टूबर जाते जाते चला जाता है। लेकिन इस समय जो बारिश हुई है इससे बरसात के मौसम जैसा हाल हो गया है। आने वाले दिनों में सर्दी का मौसम शुरू होगा तो नए मिलने वाले मरीजों की संख्या में कमी आनी शुरू हो जाएगी।

Back to top button
E-Paper