रात भर गड्ढा खोदती रही ये हथिनी, सुबह नजदीक जाकर देखे लोग तो रो दिए

माँ और शिशु का रिश्‍ता काफी महत्‍वपूर्ण होता है चाहें वो इंसान का हो या फिर जानवर का आखिर मां तो मां होती है। इस रिश्ते की महत्तवता को शब्दों में बयान करना कठिन है। यह रिश्ता उस दिन कायम हो जाता है, जिस दिन शिशु माँ की कोख में जन्म लेता है। हाल ही में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे देखने के बाद एक बार फिर से ये साबित हो जाता है कि दुनिया में मां से बढ़कर कोई नहीं है।

ये मामला छत्तीसगढ़ के सूरजपुर का है जहां एक हाथी का बच्चा काफी गहरे गड्ढे में गिर जाता है। जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि ये हथिनी रात के समय अपने बच्‍चे के साथ जंगल पार कर रही थी। उसी समय उसका छोटा बच्चा रास्ते में बने एक गड्ढे में गिर गया। उसे बाहर निकालने के लिए हथिनी ने काफी संघर्ष किया।

लगातार बिना रुके उसने 11 घंटे तक गड्ढा खोदा। वहीं आपको बता दें कि घबराहट में हथिनी अपने बच्चे के ऊपर ही और मिट्टी डालती जा रही थी। जिससे उसने सुबह तक मिट्टी खोदना जारी रखा लेकिन उसके बाद भी वो बच्चे को बाहर नहीं निकाल पाई। अंतिम में जब वो थक कर रोने लगी तो उसके रोने की आवाज सुनकर आसपास के लोग वहां पहुंचे।

लेकिन उन्‍हें समझ नहीं आ रहा था कि वो क्‍यों रो रही तभी उन्‍हें पता चला कि उसका बच्‍चा गिर गया है जिसके बाद वो उसकी मदद को आगे आए और फिर केला देकर उसका ध्‍यान भटकाया और फिर उन्होंने बच्चे को बाहर निकाल लिया। जिसके बाद हथिनी अपने बच्‍चे के साथ जंगल में चली गई।

Back to top button
E-Paper