रोहिणी गोलीकांड के बाद दिल्ली की सभी जेलों में हाई अलर्ट जारी, गोगी की हत्या के बाद गैंगवार की आशंका

शुक्रवार को रोहिणी अदालत में हुई गोलीबारी के बाद दिल्ली की सभी जेलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।एक अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार की घटना के बाद गैंगवार की आशंका को देखते हुए सभी जेलों को अलर्ट पर रखा गया है। उन जेलों पर खास नजर रखी जा रही है, जहां गैंगस्टर बंद हैं।इसके अलावा रोहिणी अदालत के बाहर भी सुरक्षा व्यवस्था को कड़ा किया गया है। 

गोलीबारी में हुई थी गैंगस्टर की मौत

शुक्रवार को रोहिणी अदालत में हुई गोलीबारी में वांटेड गैंगस्टर जीतेंद्र गोगी की मौत हो गई थी। उसे पेशी के लिए अदालत लाया गया था, जहां पहले से मौजूद टिल्लू गैंग के दो हमलावरों ने उस पर गोलियां बरसानी शुरू कर दीं।पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए दोनों हमलावरों को मौके पर ही ढेर कर दिया था।इसके बाद से जेल और अदालत परिसरों में सुरक्षा को लेकर कई सवाल खड़े हो गए हैं।जानकारी

शनिवार को जारी किया गया अलर्ट

एक वरिष्ठ अधिकारी ने समाचार एजेंसी PTI को बताया कि उन जेलों पर कड़ी नजर रखी जा रही हैं, जहां गोगी और टिल्लू गैंग के बदमाश बंद हैं। कल की घटना को देखते हुए गैंगवार की आशंका है। इसलिए तिहाड़ जेल, मंडोली और रोहिणी समेत सभी जेलों को अलर्ट पर रखा गया है।मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, गोगी और टिल्लू गैंग के बीच अकसर गैंगवार की घटनाएं होती रहती हैं और दोनों तरफ के कई बदमाश मारे जा चुके हैं।जानकारी

CJI ने घटना पर जताई चिंता

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश एनवी रमन्ना ने रोहिणी अदालत में हुई घटना पर गहरी चिंता व्यक्त की थी।उन्होंने दिल्ली हाई कोर्ट के मुख्य न्यायधीश को पुलिस और बार दोनों से मिलकर यह सुनिश्चित करने की सलाह दी कि इससे अदालत के काम पर कोई असर नहीं पड़ना चाहिए।अदालत और वकीलों की सुरक्षा को लेकर एक याचिका पहले से ही सुप्रीम कोर्ट में लंबित हैं, जिस पर अगले हफ्ते सुनवाई हो सकती है।घटना

वकीलों का भेष बनाकर अदालत में आए थे हमलावर

शुक्रवार को रोहिणी अदालत में आए हमलावरों ने वकीलों की वर्दी पहनी हुई थी। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि उनके पास खाली फाइलें थीं और वो कोर्टरूम में जज के पहुंचने पर अपनी जगहों से खड़े भी नहीं हुए थे।जैसे ही दिल्ली पुलिस गोगी को पेशी के लिए कोर्टरूम के भीतर लाई, उन्होंने जेब से पिस्तौल निकालकर फायरिंग शुरू कर दी। बताया जा रहा है कि गोगी को चार गोलियां लगी और कुछ देर बाद उसने दम तोड़ दिया।

Back to top button
E-Paper