वाराणसी दौरे से पहले बवाल : कांग्रेस के विवादित पोस्टर में मां दुर्गा के अवतार में दिखीं प्रियंका गांधी

कांग्रेस कल यानि 10 अक्टूबर को पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में किसान न्याय रैली करने जा रही है, जिसमें मुख्य अतिथि कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी हैं. प्रियंका के वाराणसी दौरे से पहले ही वाराणसी के विभिन्न स्थानों पर कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता और नेताओं ने एक पोस्टर जारी किया है. इस पोस्टर में प्रियंका गांधी को मां दुर्गा के रूप में दिखाया गया है.

वाराणसी: दस अक्टूबर को वाराणसी में होने वाले प्रियंका गांधी की किसान न्याय रैली को लेकर के कांग्रेस पार्टी के युवाओं ने एक विवादित पोस्टर जारी किया है. जिसमें उन्होंने प्रियंका गांधी को देवी दुर्गा के रूप में स्थापित किया है, वहीं महिषासुर के रूप में किसानों के हत्यारे को बताया है. इन दिनों यह पोस्टर वाराणसी में चर्चा का विषय बना हुआ है. बता दें कि जिस तरीके से लखीमपुर में किसानों के साथ बर्बरता बरती गई, उसने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया हैं. किसानों की न्याय के लिए प्रियंका गांधी लखीमपुर पहुंच गई और उन्होंने किसानों के हित में आवाज बुलंद की.

जिसके बाद 10 अक्टूबर को वाराणसी में वह किसान न्याय रैली को संबोधित करेंगे. जहां वह किसानों के हक को लेकर के बात करेंगी. प्रियंका के आगमन को लेकर उत्साहित कार्यकर्ताओं ने नवरात्र के महीने में प्रियंका गांधी को देवी दुर्गा के रूप में बताया है, वहीं किसानों के हत्यारे के रूप महिषासुर को बताया है.इस बाबत कांग्रेस पार्टी के नेता हरीश मिश्रा ने कहा कि हमारी नेता बहन प्रियंका जिस तरीके से किसानों के हक के लिए खड़ी हुई है,उसने हम लोगों के अंदर एक नए उत्साह को भर दिया है जिससे हम किसानों के हक के लिए और तत्परता से लड़ेंगे. 

प्रियंका गांधी के दुर्गा अवतार का पोस्टर

उन्होंने बताया कि वर्तमान सरकार सिर्फ और सिर्फ गरीब व किसानों के हक को कुचल रही है. ऐसे में हमारी नेता प्रियंका गांधी ने मां देवी दुर्गा के रूप में डट कर के किसानों के हक की बात की है और वह लगातार लड़ रही हैं. इसलिए हम लोगों ने उन्हें मां दुर्गा के रूप में स्थापित किया है और हमें यह भरोसा है कि वह निश्चित तौर पर किसानों के हत्यारों का सर्वनाश करेंगी और सरकार को सच का आईना दिखाएंगी.

Back to top button
E-Paper