शुक्ला की परीक्षा को ‘पास’ कराने आज आएंगे धामी

जन्मदिन पर शुक्ला को दे सकते हैं जीत का मंत्र, दो बार विधायक रहने के बाद शुक्ला ने क्षेत्र को दी है विकास की सौगात

रुद्रपुर। उत्तराखंड के सियासी संग्राम में अब कुछ ही महीने शेष बचे हैं। ऐसे में उत्तराखंड के युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने भी जिस तेजी से राज्य के विकास और राज्य की जनता में अपना एक विशेष संबंध कायम करने का बीड़ा उठाया है, उसे अब झुठलाया नहीं जा सकता। इसी परिपेक्ष्य में गंभीरता से देखा जाएगा तो आज मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भारतीय जनता पार्टी के किच्छा विधानसभा क्षेत्र के विधायक राजेश शुक्ला के जन्मदिन के अवसर पर तराई की धरती पर उनके विधानसभा क्षेत्र में पहुंच रहे हैं। विधायक शुक्ला का अपने विधानसभा क्षेत्र में जहां तमाम जाति संगठनों के लोगों से बेहतर तालमेल है, वहीं राजेश शुक्ला अपने मधुर स्वभाव से भी सियासत के गलियारों में भी अपनी अहम पहचान रखते हैं।

शुक्ला ने अपने 10 साल के कार्यकाल में किच्छा विधानसभा क्षेत्र में बहुत से ऐसे काम किए हैं, जो आज भी जनता के बीच गिनाए जाने योग्य हैं। कई ऐसे काम भी हैं, जो कभी कोई सरकार कर ही नहीं पाई। इसी परिप्रेक्ष्य में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी भी राजेश शुक्ला के जन्मदिन के अवसर पर सियासत के तरकश के तीर में विकास की कितनी घोषणाएं अपने सियासी तीरों से शुक्ला के क्षेत्र में डालते हैं, यह देखना होगा।

विधायक राजेश शुक्ला और पुष्कर सिंह धामी का घनिष्ठ मित्र भाव बहुत पुराना है। हालांकि मुख्यमंत्री इस समय मित्र भाव को ना देखते हुए सिर्फ विकास के कामों को देखने वाले व्यक्ति को ही तवज्जो दे रहे हैं। उन्होंने अपनी सूची में भले ही मित्रभाव को जरूर कहीं रखा हो, लेकिन दायित्व देने में वह पहले उसी व्यक्ति को आगे बढ़ा रहे हैं, जो विकास के लिए काम कर रहा है। पार्टी संगठन से लेकर के सियासी गलियारों तक के बीच की बात की जाए तो मुख्यमंत्री के फिलहाल के जो फैसले हैं, अभी तक उनको जहां जनता खूब सराहा रही है, वहीं यह भी है कि संगठन में भी उनके कामों की बड़ी तारीफ की जा रही है। देखते हैं किच्छा विधानसभा में मुख्यमंत्री का विधायक राजेश शुक्ला के जन्मदिन अवसर पर क्या बड़ी घोषणा हो सकती है।

Back to top button
E-Paper