सीतापुर : उधारी का पैसा मांगने पर चाचा को भतीजे ने दी जान से मारने की धमकी

चित्रपरिचय : स्टाम्प पर पैसे की लिखा पढ़ी दिखाता पीडि़त दम्पत्ति


क्रासर- पीडि़त चाचा ने भतीजे से पैसा दिलाने व जान माल की सुरक्षा की लगाई गुहार

बिसवां नगर (सीतापुर)।(आरएनएस ) मामला कोतवाली बिसवां क्षेत्र के मोहल्ला महाराजगंज कस्बा बिसवां का है। जहां हामिद पुत्र बदलू ने कोतवाली बिसवां में तहरीर देकर भतीजे से पैसा वापस दिलवाने और जानमाल की रक्षा के संबंध में तहरीर देकर गुहार लगाई है। जानकारी के अनुसार हामिद अली ने अपने बड़े भाई रहमत अली के पुत्र मोहम्मद शमीम को सऊदी जाने के लिए वीजा बनवा कर दिया था क्योंकि शमीम के पिता की मृत्यु बहुत पहले हो गई थी। तब शमीम छोटा था और शमीम के एक बहन थी। शमीम की अम्मी ने रहमत अली की मृत्यु के उपरांत दूसरी शादी कर ली थी और शमीम और उसकी बहन दोनों अपनी मम्मी के पास रहते थे। कुछ दिन उपरांत शमीम अपने चाचा हामिद के पास आया और कहां चाचा मैं आपके पास ही रहूंगा और घर का काम करूंगा। हामिद अली के कोई औलाद नहीं थी तो सोचा कि भाई का लड़का है रहेगा और काम करेगा। लगभग 8 महीने रहकर शमीम ने अपने चाचा हामिद अली से कहा चाचा जी हमको सऊदी का वीजा बनवा दीजिए। हम पैसा कमाएंगे और जब वापस आएंगे आपका पैसा वापस कर देंगे। हामिद ने वीजा बनवा दिया अन्य खर्चे और वीजा मिलाकर लगभग हामिद ने 3 लाख रूपये शमीम पर खर्चा किए। कुछ सालों बाद जब शमीम घर वापस आया तो हामिद ने पैसा वापस मांगा तो शमीम अपने चाचा हामिद को गंदी गंदी गालियां देने लगा और पैसा न वापस करने को कहा। तब हामिद ने गांव के संभ्रांत व्यक्तियों और रिश्तेदारों को बुलाकर फैसला कराया तो 1 लाख 28000 रूपये शमीम ने हामिद को देने को कहा और पैसा देने का 18 महीने का समय मांगा। फैसले में आए सभी लोगों ने स्टांप पर इसकी लिखा पढ़ी करवा दी।

जब 18 महीने पूरे हो गए तो हामिद ने शमीम से पैसा मांगा। शमीम दिल्ली में किसी फैक्ट्री में काम करता है। पैसा ना देना पड़े इसके लिए शमीम ने अपने चाचा हामिद पर झूठी आजियारस कर-कर करके परेशान करने लगा और हामिद को अपना वारिस दर्साने लगा। हामिद को शमीम से पैसा मांगते मांगते 3 महीने हो गया लेकिन शमीम ने अभी तक पैसा नहीं दिया। हामिद ने जो तहरीर बिसवां कोतवाली में दिया है उसने यह भी दर्शाया है कि सायरा बानो पत्नी अकबर, अनवर पुत्र अकबर, अख्तर पुत्र अकबर निवासी ग्राम घैला थाना रामपुर कला, इस्लाम पुत्र सिरदार निवासी शक्तिन पुरवा कोतवाली बिसवां और ईदी पुत्र शब्बीर निवासी सुखावां खुर्द थाना सदरपुर पर यह आरोप लगाया कि यह सब लोग शमीम से पैसा ना वापस करने को कह रहे हैं इसीलिए शमीम पैसा वापस नहीं कर रहा है। अब देखना यह है कि बिसवां कोतवाली पुलिस हामिद को न्याय दिलवा पाती है या नहीं यह तो वक्त ही बताएगा।

Back to top button
E-Paper