हो गया खुलासा किस वजह से ऋषभ पंत को किया गया ODI और टी20I टीम से बाहर

दिग्गज विकेटकीपर एमएस धोनी के संन्यास के बाद ऋषभ पंत को धोनी का उतराधिकारी माना जा रहा था. लेकिन संन्यास के कुछ महीनों बाद ही ऐसा होता हुआ दिखाई नहीं दे रहा हैं. जिसके बाद पंत का करियर अधर में लटका हुआ दिखाई दे रहा हैं.

2018 ऋषभ पंत क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में टीम इंडिया में जगह बना चुके थे लेकिन पन्त अपनी गैरजिम्मेदाराना बल्लेबाजी के कारण लगातार टीम में अपनी जगह गंवाते चले गए.

ऋषभ पंत एक बेहद होनहार प्रतिभा हैं लेकिन जिस तेजी से उन्होंने टीम इंडिया में जगह बनायीं थी, उसी तेजी से वह कप्तान और टीम मैनेजमेंट का भरोसा खोने लगे हैं.

ऑस्ट्रेलिया दौरे की सिमित ओवर टीम से पंत ड्राप

सुनील जोशी की अध्यक्षता में सोमवार(26 अक्टूबर) को चयन समिति ने ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए तीनों फॉर्मेट की टीम का ऐलान किया. इस दौरान चयन समिति ने कड़ा फैसला करते हुए ऋषभ पंत को वनडे और टी20 टीम से बाहर कर दिया हैं.

रोचक बात ये है कि पंत को टेस्ट टीम में जगह मिली हैं जबकि उनकी बल्लेबाज़ी श्रेली सिमित ओवर क्रिकेट से मेल खाती हैं. दरअसल चयन समिति के इस फैसले से ये बात तो साफ़ हो गयी हैं अब ऋषभ पंत से टीम मैनेजमेंट का भरोसा कम होने लगा हैं.

अब संजू सैमसन को माना जा रहा हैं धोनी का उतराधिकारी

आईपीएल 2020 में विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत का प्रदर्शन फीका रहा हैं, यहाँ तक कि वह पुरे सीजन में अभी तक एक अर्द्धशतक तक नहीं लगा पाये हैं. उनकी बल्लेबाजी कोई भी प्रभाव छोड़ने में सफल नहीं रही हैं, जिसके कारन चयन समिति ने उन्हें सिमित ओवर की टीम से ड्राप करने का फैसला किया हैं.

एक तरह ऋषभ पंत के खराब प्रदर्शन जा खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ा हैं जबकि आईपीएल 2020 में अब तक 3 अर्द्धशतक लगाने वाले संजू सैमसन को इनाम मिला हैं और उन्हें टी20 टीम में चुना गया हैं. दरअसल अब चयन समिति संजू को धोनी का उतराधिकारी मानने लगे हैं.

Back to top button
E-Paper