धूमेश्वर महादेव में 25 से तीन दिवसीय कांवड़ महोत्सव

भास्कर समाचार सेवा

मुरादनगर। गांव सुराना स्थित धूमेश्वर महादेव मंदिर में तीन दिवसीय कावड़ महोत्सव आगामी 25 जुलाई से प्रारंभ होगा। हिंडन नदी के तट पर स्थित गांव सुराना में धूमेश्वर महादेव का मंदिर अत्यंत प्राचीन है। ग्रामीणों कहना है कि शिवलिंग हिंडन नदी में बह कर आया था और यहां स्थापित हो गया। लगभग 200 वर्ष पूर्व मुजफ्फरनगर के एक सेठ सौदागर मल ने मंदिर का जीर्णोद्धार कराया। मंदिर में शिवलिंग के साथ-साथ विशाल नंदी की प्रतिमा भी है। ग्रामीण क्षेत्र में इतना विशाल और ऊंचा मंदिर शायद ही कहीं मिले। मंदिर में जो नक्काशी की गई है वह भी अपने आप में अविस्मरणीय है। पिछले लगभग 30 वर्षों से मंदिर पर विशाल मेला लगता है, जिसमें श्रावण मास में हजारों की संख्या में कावड़िए हरिद्वार से जल लाकर भगवान शंकर का जलाभिषेक करते हैं। मंदिर समिति के रघुनंदन रस्तोगी ने बताया कि मंदिर परिसर में तीन दिवसीय काँवड़ महोत्सव का आयोजन किया जाता है। इस अवसर पर बाजार में दुकानें सजती हैं कुश्ती दंगल का आयोजन किया जाता है। रात्रि में जागरण होता है। मेले को भव्य बनाने के लिए गांव के साथ-साथ क्षेत्र के लोगों का भी भरपूर सहयोग मिलता है।

Back to top button