जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला खेल विकास एवं प्रोत्साहन समिति की बैठक हुई आयोजित

भास्कर समाचार सेवा

अलीगढ़। जिलाधिकारी इन्द्र विक्रम सिंह की अध्यक्षता में जिला खेल विकास एवं प्रोत्साहन समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई। बैठक में क्षेत्रीय क्रीड़ाधिकारी रानी प्रकाश ने निर्धारित एजेण्डा बिंदु के अनुसार प्रस्तावों को जिलाधिकारी की अनुमति से विकास खेल विकास एवं प्रोत्साहन समिति के सदस्यों के सामने विचारार्थ रखा। जिलाधिकारी ने प्रस्तुत किये गये प्रस्तावों पर समिति के सदस्यों से आवश्यक बिन्दुओं पर विचार-विमर्श करते हुए बहुमूल्य सुझावों व मार्गदर्शन के साथ अनुमति दी। जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने कहा कि मानव जीवन में खेलों का महत्वपूर्ण स्थान है। प्रत्येक व्यक्ति को भाग-दौड़ भरी दिनचर्या में से अल्प समय खेल के लिए अवश्य निकालना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिला खेल विकास एवं प्रोत्साहन समिति का उद्देश्य आमजन में खेलों के प्रति रुचि पैदा करने के साथ ही साधन संसाधन उपलब्ध कराना है।
विधायक अनिल पाराशर ने महारानी अहिल्याबाई होलकर स्टेडियम के रखरखाव एवं विभिन्न प्रकार के संसाधन उपलब्ध कराने के लिए 10 लाख की धनराशि विधायक निधि से दिए जाने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों की सहभागिता से विकास कार्यों को और अधिक बल मिलता है। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र की प्रतिभाओं को निखारने के लिए समय-समय पर आयोजित होने वाली बैठकों में स्थानीय जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित कर उनके सुझाव एवं सहयोग प्राप्त करने के निर्देश क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी रानी प्रकाश एवं डीओ पीआरडी को दिए। जिला खेल विकास एवं प्रोत्साहन समिति की बैठक में आर्थिक संसाधन बढ़ाए जाने, बहुद्देशीय हॉल का नाम स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के नाम पर रखे जाने, 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग की प्रतियोगिताएं कराए जाने, विभिन्न खेलों के प्रशिक्षकों को मानदेय पर तैनात किए जाने, खेल सामग्री क्रय किए जाने, खेल निदेशालय द्वारा संचालित योजनाओं को प्रदर्शित किए जाने, मुख्य मैदान एवं खेल अवस्थापनाओ का रखरखाव, वृक्षारोपण एवं खेल विकास प्रोत्साहन समिति के सदस्यों का वार्षिक सदस्यता शुल्क बढ़ाए जाने पर निर्णय लिया गया।
क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी रानी प्रकाश ने बताया कि खिलाड़ियों के बहुमुखी विकास, निर्धन एवं उद्यीमान खिलाड़ियों, क्लबों को सहायता पहुंचाने के लिए खेल विकास एवं उत्थान समिति सबसे महत्वपूर्ण कड़ी है। समिति का दायित्व सभी से सामंजस्य स्थापित कर खेलों के प्रति जागरूकता व संसाधन को बढ़ाना है। जिलाधिकारी ने बहुद्देश्यीय हॉल का नाम स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के नाम पर रखे जाने के लिए जिला विकास अधिकारी भरत कुमार मिश्रा को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। क्षेत्रीय क्रीड़ा अधिकारी रानी प्रकाश एवं डीओ पीआरडी को जिले से लेकर न्याय पंचायत स्तर पर खेलों के प्रति कार्य योजना बनाए जाने के निर्देश दिए गए। स्टेडियम में आने वाले खिलाड़ियों के लिए शिक्षकों को न्यूनतम मानदेय पर नियुक्ति करने पर भी निर्णय लिया गया। तैराकी को बढ़ावा देने के लिए अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से समन्वय स्थापित करने के निर्देश दिए गए। इसके साथ ही शासनादेश के क्रम में जनपद में स्थापित जिम एवं तरणतालों की सूची बनाए जाने एवं शासनादेश के अनुसार संचालित कराए जाने के भी निर्देश दिए गए। खेल एवं प्रोत्साहन समिति में वर्तमान में सदस्यों की संख्या को बढ़ाए जाने के साथ ही सदस्यता शुल्क सालाना रूपया 500 किये जाने पर निर्णय लिया गया। प्रभागीय निदेशक सामाजिक वानिकी को निर्देशित किया गया कि वह स्टेडियम की चारदीवारी के आसपास वृक्षारोपण सुनिश्चित कराएं। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अंकित खंडेलवाल सोम प्रकाश शर्मा, प्रमोद शर्मा, मीनाक्षी, नीवन कुमार, शमशाद निसार आजमी, कुमकुम सिंह, चन्द्रभूषण प्रसाद, मुकेश कुमार, शालिनी चौधरी, विपिन वार्ष्णेय, कृृष्ण कुमार वार्ष्णेय, आरपी सिंह, बंटी, फकीरा सहित अन्य अधिकारी एवं सदस्यगण उपस्थित रहे।

Back to top button