ताजमहल के बाहर गंदगी का फैला अंबार, महापौर ने कराई सफाई, एजेंसी पर लगा 1 लाख का जुर्माना

10 साल की एनवायरनमेंट एक्टिविस्ट लिसिप्रिया कंगुजाम ने ताजमहल के बाहर फैली गंदगी के खिलाफ आवाज उठाई थी। उन्होंने 21 जून को ताजमहल के बाहर यमुना नदी के किनारे प्लास्टिक और कूड़े के ढेर की एक फोटो शेयर की थी। इस फोटो के वायरल होने के बाद आगरा नगर निगम ने सफाई एजेंसी पर 1 लाख का जुर्माना लगा दिया। वहीं, आगरा के महापौर, पार्षद समेत सामाजिक कार्यकर्ताओं ने ताजमहल के बाहर फैली गंदगी की सफाई करवाई।

आगरा के मेयर ने सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त अभियान चलाया

आगरा के महापौर नवीन जैन ने देश को सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिए ‘वृहद जन-जागरूकता अभियान’ चलाया। इस अभियान के तहत पार्षद और सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर उन्होंने ताजमहल के बाहर फैली गंदगी की सफाई करवाई। इसकी जानकारी उन्होंने ट्विटर पर फोटो शेयर कर दी।

फोटो शेयर करने से गंदगी पर हुआ एक्शन

लिसिप्रिया कंगुजाम ने 21 जून को फोटो शेयर कर ताजमहल के बाहर फैली गंदगी के खिलाफ आवाज उठाई थी। उन्होंने लिखा था- ताजमहल देखने के दौरान आपने यह नजारा देखा होगा। आप कह सकते हैं कि यह बहुत प्रदूषित है, लेकिन आपके पॉलीथीन बैग का 1 टुकड़ा, एक साधारण प्लास्टिक की पानी की बोतल ने इसे बनाया है। जहां हर साल लाखों लोग आते हैं।

कौन हैं लिसिप्रिया कंगुजाम

10 साल की लिसिप्रिया कागुजम मणिपुर के गांव बशिखांग की रहने वाली हैं।​​​​​​​ लिसिप्रिया 6 साल की उम्र से पर्यावरण संरक्षण और बाल अधिकारों के लिए दुनियाभर में अभियान चला रही हैं। ​​​​​​​उन्हें विश्व बाल शांति पुरस्कार, राइजिंग स्टार आफ अर्थ डे नेटवर्क का आवार्ड भी मिल चुका है। 2021 में उन्हें ग्लाोबल चलाइल्ड प्रोडगी अवार्ड और नोवल सिटीजन अवार्ड भी मिल चुका है।​​​​​​​

Back to top button