Aaj Ka Mausam : चक्रवात ‘गुलाब’ को लेकर ओडिसा में राहत बचाव जारी, पढ़े ताजा अपडेट

रविवार को चक्रवात गुलाब का उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश और दक्षिण तटीय ओडिशा में प्रवेश हो गया। चक्रवात के कारण दक्षिण एवं तटीय क्षेत्रों में रविवार से तेज हवाओं के साथ बारिश शुरू हो गयी। उत्तर पश्चिम और उससे सटे पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती तूफान गुलाब के आगे बढ़ने की गति 10 किमी प्रति घंटे की रही। मौसम विभाग ने रविवार को बताया कि चक्रवात ‘गुलाब’ पश्चिम दिशा की ओर आगे बढ़ेगा और मध्यरात्रि के आसपास कलिंगपट्टनम और गोपालपुर के बीच उत्तरी आंध्र प्रदेश और दक्षिण ओडिशा के तट को पार कर सकता है।

मौसम विभाग के अनुसार रविवार को चक्रवात के तट से टकराने के हवा की गति लगभग 90 किमी प्रति घंटे रही। ओडिसा में चक्रवात के अलर्ट के बीच, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को राज्य के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से फोन पर बातचीत की और चक्रवात से उत्पन्न चुनौतियों से निपटने के लिए केंद्र की तरफ से सभी प्रकार के समर्थन का आश्वासन दिया। ओडिसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने रविवार को राज्य के संवेदनशील जिलों में किसी के भी हताहत न होने का लक्ष्य तय किया और राहत बचाव कार्यों में तेजी लाने का आदेश दिया। 

विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) पी के जेना ने कहा कि सरकार ने बचाव दलों को संवेदनशील इलाकों में भेजा है और निचले इलाकों में फंसे लोगों को बाहर निकालने का काम जारी है। ओडिशा आपदा त्वरित कार्य बल (ओडीआरएएफ) के 42 दलों और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के 24 दलों के साथ दमकल कर्मियों को सात प्रभावित जिलों में भेजा गया है। 

आपको बता दें कि ओडिसा में इसी साल मई में तबाही मचाने वाला ‘यास’ तूफान के बाद चार महीनों में राज्य में यह दूसरा बड़ा तूफान है। यास तूफान ने मई में पश्चिम बंगाल में भी तबाही मचाई थी।मौसम विभाग की मानें तो 27 सितंबर के आसपास पूर्वोत्तर और इससे सटे पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर एक और चक्रवात हवाओं के क्षेत्र के बनने की संभावना है, जो कम दबाव के क्षेत्र के गठन को प्रभावित कर सकता है। इसके अलावा, अगले 24 घंटों के दौरान ओडिशा के कुछ तटीय इलाके और तटीय आंध्र प्रदेश में भारी से बहुत भारी बारिश के साथ हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना जताई गई है।
ताजा जानकारी के अनुसार चक्रवात का असर अन्य राज्यों में भी देखने को मिलेगा। ओडिशा के अलावा छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, मराठवाड़ा, तेलंगाना, मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों, दक्षिण-पूर्व राजस्थान और गुजरात, केरल और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। साथ ही, पश्चिम बंगाल, झारखंड के कुछ हिस्सों, बिहार, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक, लक्षद्वीप, कोंकण और गोवा, मध्य महाराष्ट्र, उत्तराखंड, तमिलनाडु और रायलसीमा में हल्की बारिश संभव है। पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों में भी हल्की से मध्यम बारिश संभव है।

Back to top button
E-Paper