स्वतंत्र देव के इस्तीफे के बाद कौन बनेगा यूपी में नया भाजपा प्रदेश अध्यक्ष, जानें अब किन नामों की चर्चा

उत्तर-प्रदेश में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने इस्तीफा दे दिया है। नए प्रदेश अध्यक्ष का चेहरा भी तय हो चुका है। सूत्रों के मुताबिक 2 से 3 दिन में ऐलान भी कर दिया जाएगा।

लखनऊ से दिल्ली तक कुछ नामों पर चर्चा चल रही है। इसमें सबसे टॉप पर केशव प्रसाद मौर्य हैं, वो OBC चेहरा हैं। ब्राह्मण नेता में दिनेश शर्मा, जबकि SC चेहरे में बीएल वर्मा के नामों पर चर्चा चल रही है।

आज हम आपको बताते है कि यूपी में नया भाजपा प्रदेश अध्यक्ष कौन हो सकता है…

केशव मौर्य का नाम टॉप पर
22 जुलाई को केशव मौर्य ने दिल्ली में राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की थी। केशव ने उसी दिन यह तस्वीर अपने ट्वीटर पर शेयर भी किया था।
प्रदेश अध्यक्ष की दौड़ में यूपी के डिप्टी सीएम केशव मौर्य का नाम अचानक चर्चाओं में आया। केशव ने पिछले सप्ताह कुछ दिन दिल्ली में बिताए हैं। राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड़्डा से मुलाकात की। तस्वीरें शेयर की और अध्यक्ष की दौड़ में सबसे आगे निकल गए। हम आपको बताते है कि इस चर्चा की वजह क्या है?

अनुभव और जाति के कांबिनेशन ने बयाना फेवरेट च्वाइस
केशव मौर्य भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रह चुके हैं। अप्रैल 2016 में उन्हें भाजपा का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया। उनके ही नेतृत्व में भाजपा ने 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ा। इसमें 325 से सीट लाकर ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी। केशव प्रसाद मौर्य भाजपा की प्रदेश इकाई के पिछड़े वर्ग के सबसे बड़े नेता के तौर पर जाने जाते हैं।
केशव राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल और भाजपा में करीब 18 साल तक प्रचारक रहे हैं। श्रीराम जन्म भूमि, गोरक्षा और हिन्दू हित के लिए कई आंदोलन किया। इसके लिए जेल भी गए। इसीलिए वो अध्यक्ष के लिए सबसे भरोसेमंद चेहरा माने जाते हैं।

पार्टी भी चाहती है OBC चेहरा
देश में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा यूपी में पार्टी की कमान किसी OBC चेहरे को देना चाहती है। पार्टी के मुखिया और एक डिप्टी सीएम सवर्ण है। आंकड़े गवाह है कि पार्टी को सवर्णों के बाद सबसे ज्यादा वोट OBC समाज से ही मिलता है। ऐसे में पार्टी की कमान OBC को देकर सरकार और संगठन में बेहतर तालमेल बनाने की चर्चा है। अगर पार्टी इस फार्मूले पर आगे बढ़ती है। तो केशव बेहतर विकल्प के तौर पर खड़े है।
इसके साथ ही इस समाज से आने वाले केंद्रीय मंत्री बीएल वर्मा और योगी सरकार के पंचायतीराज मंत्री भूपेंद्र सिंह चौधरी का नाम भी चर्चाओं में है।

प्रमुख दावेदार की दौड़ में कुछ और नाम भी शामिल
ब्राह्मण नेताओं में पूर्व उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा, कन्नौज के सांसद एवं प्रदेश महामंत्री सुब्रत पाठक, हरीश द्विवेदी, दिनेश उपाध्याय, गोविंद नारायण शुक्ला, ब्रज बहादुर शर्मा प्रमुख दावेदार हैं। इसके साथ ही चर्चा है कि इस बार पार्टी दलित चेहरे को लेकर विचार कर सकती है। ऐसे में सांसद डॉ. रामशंकर कठेरिया, केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर, सांसद विनोद सोनकर पर भी दाव लगा सकती है।

Back to top button