बहराइच : कस्टम अधीक्षक सौरभ सिंह ने की पत्रकारों से बदसलूकी

रूपईडीहा ( बहराइच ) शुक्रवार की सुबह 11 बजे पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार नेपाल के व्यापारियों के साथ किए जाये रहे दुर्व्यवहार व अवैध वसूली के संबंध मे समस्याओं के निराकरण हेतु लैण्ड कस्टम रूपईडीहा मे एक बैठक आयोजित थी। बैठक मे नेपालगंज उद्योग व्यापार संघ के अध्यक्ष नन्दलाल वैय, महामंत्री अजय टण्डन, नेपाली मीडिया कर्मी झलक गैरे सहित नेपाल के प्रतिठित व्यापारी, कस्टम के डिप्टी कमिनर प्रदीप सिंह सेंगर, काठमांडू स्थित भारतीय दूतावास के चीफ सेक्रेट्री वाणिज्य प्रभजीत सिंह गुलाटी मौजूद थे। स्थानीय मीडिया कर्मी जब इस महत्वपूर्ण बैठक की कवरेज करने पहुंचे तो कस्टम अधीक्षक सौरभ सिंह ने पत्रकारों से कहा कि आप लोग बैठक मे नही जा सकते और ठक्का देकर बाहर निकाल दिया।
पत्रकारों ने कहा कि भारत नेपाल के संबंध मे आयात-निर्यात तथा अवागमन की कवरेज करना आवश्यक है तो उन्होने अपमानित करते हुए सभी मीडिया कर्मी को जाने नही दिया। एक ओर जहां केन्द्र व प्रांतीय सरकार ने अधिकारियों को हिदायत दे रखी है कि विभागों मे पारर्दिता लाने के लिए पत्रकारों को सम्मान देते हुए उन्हे शासन प्रशासन की नीतियों के बारे मे प्रेस मीट के माध्यम से अवगत कराये। दूसरी और सौरभ सिंह दो र्वा से अधिक सयम से तैनात है। नियमानुसार सभी अधिकारियों का लैण्ड कस्टम रूपईडीहा से स्थानान्तरण हो चुका है। परन्तु अपना ऊंची पहुंच के कारण ये अभी तक जमे हुए है।कस्टम अधिकारी का पक्ष जानने के लिए आफिस के लैंड लाईन न005253240326 पर फोन करने पर घंटी जाती है किसी ने फोन नही उइाया ।
सौरभ सिंह के विरूद्ध पत्रकारों ने दिया थाने मे प्रार्थना पत्र
अपने को अपमानित महसूस करते हुए पत्रकार मनीराम शर्मा, राजेश सिंह, संजय वर्मा, नबी अहमद, रामजी सोनी, अमित मदेसिया, भीमसेन नायक, याम कुमार मिश्रा, सुभा जायसवाल तथा सुरेश मदेसिया आदि पत्रकारों ने थानाध्यक्ष महोदय को सौरभ सिंह के विरूद्ध आवश्यक कार्यवाही हेतु प्रार्थना पत्र दिया है। प्रार्थना पत्र मे यह भी कहा गया है कि अगर इसने खिलाफ कार्यवाही नही हुई तो हम लोग लामबंद होकर धरना प्रर्दान करने के लिए बाध्य हो जायेगे।
Back to top button
E-Paper