बांदा : विटामिन ‘ए’ की खुराक पिलाकर बाल स्वास्थ्य पोषण माह का शुभारंभ

सीएमओ व विधायक प्रतिनिधि ने बच्चों को बांटे आयर सीरप

जनपद के 2.37 लाख बच्चों को खुराक पिलाने का लक्ष्य

भास्कर न्यूज

बांदा। बाल स्वास्थ्य एवं पोषण माह के तहत मुख्य चिकित्साधिकारी व सदर विधायक प्रतिनिधि ने संयुक्त रूप से जिला अस्पताल परिसर में पीपीसी में बच्चों को विटामिन ‘ए’ की खुराक पिलाकर शुभारंभ किया। इस दौरान नौ माह से 5 वर्ष तक के बच्चों को विटामिन ‘ए’ की खुराक दी गई। सीएमओ व विधायक प्रतिनिधि ने खुराक पीने वाले बच्चों को आयरन सिरप वितरित किए। एक माह तक चलने वाले अभियान में 2.37 लाख बच्चों को खुराक पिलाई जाएगी।

जिला व महिला अस्पताल परिसर स्थित पीपीसी सेंटर में बुधवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा.एके श्रीवास्तव और सदर विधायक प्रतिनिधि रजत सेठ ने बच्चों को विटामिन ‘ए’ की खुराक पिलाते हुए बाल स्वास्थ्य एवं पोषण माह का उद्घाटन किया। जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा.संजय कुमार शैवाल ने बताया कि शासन की ओर से नौ माह से 5 वर्ष के 2.37 लाख बच्चों को विटामिन ‘ए’ की खुराक पिलाने का लक्ष्य निर्धारित है। इसमें 9 से 12 माह तक के 14,344, एक से दो वर्ष तक के 54,052 और दो से पांच साल तक के 1,69,365 बच्चे शामिल हैं। उन्होंने बताया कि 9 से 12 माह के बच्चों को आधा चम्मच (एक एमएल) और इसके बाद 5 साल तक के बालक-बालिकाओं को एक चम्मच (दो एमएल) विटामिन ए की खुराक दी जाएगी। बताया कि नियमित टीकाकरण के तहत हर बुधवार एवं शनिवार को टीकाकरण के साथ विटामिन ‘ए’ की खुराक पिलाने के साथ ही आयरन का सीरप दिया जाएगा। विटामिन ‘ए’ की कमी की वजह से रतौंधी, लंबाई में वृद्धि की कमी एवं अन्य प्रकार के संक्रामण बीमारियों से लड़ने की क्षमता में कमी आदि समस्याएं उत्पन्न हो जाती है।

यह अभियान वर्ष में दो बार बाल स्वास्थ्य पोषण माह के नाम से चलाया जाता है। जिसमें हर छह माह के अंतराल पर विटामिन ‘ए’ की खुराक दी जाती है। बताया कि पूरे जनपद में एक माह तक यह अभियान चलाया जाएगा। इस मौके पर अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा.आरएन प्रसाद, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा.अजय कुमार, एसएमओ डा.मीनाक्षी, यूनिसेफ डीएमसी राहुल सिंह, सीएचएआई प्रतिनिधि दिगंबर सिंह, राधा शर्मा, प्रेमचंद्र पाल आदि उपस्थित रहे।

Back to top button