बांदा : स्कूलों में अराजक तत्व करते अभद्रता, शिक्षकों में भय का माहौल

पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ की बैठक में विभिन्न मुद्दाे पर हुई चर्चा

प्रोन्नत वेतनमान और लेखा पर्ची से वंचित शिक्षकों ने जताया असंतोष

भास्कर न्यूज

बांदा। पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ की बैठक में गांवों के स्कूलों में अराजकतत्वों की अभद्रता समेत प्रोन्नत वेतनमान आैर लेखा पर्ची आदि की उपलब्धता को लेकर विचार विमर्श किया गया। शिक्षकों ने कहा कि अराजक तत्व उनके साथ अभद्रता करते हैं और शिकायत करने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की जाती। जिससे शिक्षक समुदाय और छात्रों में आक्रोश पनप रहा है।

रविवार को टीचर्स सोसाइटी सभागार में पूर्व माध्यमिक शिक्षक संघ की जिला कार्यकारिणी बैठक आयोजित की गई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाध्यक्ष शैलेंद्र कुमार मिश्रा ने कहा कि एक ही पद पर िनरंतर 22 साल तक सेवा देने के बाद भी शिक्षकों को प्रोन्नत वेतनमान लागू नहीं किया गया। वहीं सेवानिवृत्त हो चुके शिक्षकों को भी लेखा पर्ची कार्यालय से उपलब्ध नहीं कराई जाती। जिससे शिक्षक समुदाय में असंतोष की स्थिति उत्पन्न हो रही है। बैठक में पूर्व माध्यमिक विद्यालय खैराड़ा के सहायक अध्यापक सुरेश कुमार शिवहरे ने बताया कि गांव के कुछ अराजकतत्व बार-बार स्कूल पहुंचकर अभद्रता करते हैं और जान से मारने की धमकी देते हैं। जिससे शिक्षक भयभीत हैं और छात्रों व शिक्षकों में आक्रोश पनप रहा है। शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष ने जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक से मामले को संज्ञान में लेते हुए स्कूलों में अराजकता फैलाने वालों पर सख्त कार्रवाई करने की मांग की है।

बैठक में मंडल अध्यक्ष अनूप कुमार तिवारी, जिला उपाध्यक्ष नीता रंजन द्विवेदी, कोषाध्यक्ष केतराम पाल, महामंत्री आदित्य प्रकाश द्विवेदी, बुधराज वर्मा, रवि करण सैनी, विद्या भूषण सिंह, खालिद खान, शत्रुघ्न वीर, चंद्रशेखर सिंह, राम कृपाल गुप्त, शुभेंदु बाबू दीक्षित, सुरेश कुमार, राजबहादुर, कामता प्रसाद गुप्त, प्रताप नारायण गुप्ता, चेतन द्विवेदी, डॉ.शिव दत्त त्रिपाठी समेत तमाम शिक्षक शामिल रहे।

Back to top button