बांदा : बढ़ती महंगाई को लेकर सड़क पर उतरी कांग्रेस, हल्ला बोल का ऐलान

अशोक लाट तिराहे पर कांग्रेसियों ने की नारेबाजी, सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा ज्ञापन

कहा, महंगाई की मार से त्राहि-त्राहि कर रही जनता, चैन की बंशी बजा रही सरकार

भास्कर न्यूज

बांदा। देश में खाद्य पदार्थों समेत आवश्यक वस्तुओं की बढ़ती महंगाई को लेकर शुक्रवार को कांग्रेसियों ने सड़क पर उतर कर जोरदार प्रदर्शन किया और महंगाई समेत विभिन्न मुद्दों पर देश की मोदी और प्रदेश की योगी सरकारांे को घेरा। अशोक लाट में धरना देते हुए कांग्रेिसयों ने सरकार विरोधी नारेबाजी की और राष्ट्रपति को संबाेधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपकर महंगाई, बेरोजगारी हटाने समेत विभिन्न मांगों को बुलंद किया।

शुक्रवार को शहर के अशोक लाट स्तंभ के नीचे एकत्र होकर कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने जोरदार प्रदर्शन किया। कांग्रेस जिलाध्यक्ष प्रद्युम्न कुमार लालू दुबे की अगुवाई में कार्यकर्ताओं ने देश की मोदी और प्रदेश की योगी सरकार को महंगाई, बेरोजगारी समेत राशन िवतरण मंे हो रही धांधली, विधवा, विकलांग आदि पेंशन समय से न मिलने जैसी समस्याओं पर जमकर घेराबंदी की। कहा कि सरकार न तो महंगाई व बेरोजगारी से लोगों को राहत दिला पा रही है अौर न ही गरीबों को मिलने वाले राशन व पेंशन आदि सुविधाओं को पात्रों तक पहुंचा पा रही है। ऐसे मंे लोग परेशान होकर दर दर की ठोकरें खाने को विवश हैं और सरकारी नुमाइंदे चैन की बंशी बजा रहे हैं। कांग्रेसियों ने राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट राजेश वर्मा को सौंपते हुए महंगाई, बेराेजगारी से आम जनता को निजात दिलाने और गरीबों को मिलने वाली सुिवधाएं उन तक निर्बाध पहुंचाने की मांग बुलंद की है। 

कहा है कि देश मंे महंगाई बहुत तेजी से बढ़ रही है और कुछ सालों में ही खाद्य सामग्री समेत तमाम जरूरत के सामानों के दाम आसमान छूने लगे हैं। बताया कि आवश्यक वस्तुओं और खाद्य पदार्थों पर जीएसटी लगाकर सरकार ने दोहरी मार देने का काम किया है। वहीं शिक्षित बेराेजगार, खेतिहर मजदूर, कामगार लगातार काम की तलाश में भटक रहे हैं, लेकिन उन्हें महंगाई से पार पाने लायक कोई रोजगार नहीं मिल रहा है। ऐसे मंे जिले से लगातार पलायन की समस्या बढ़ रही है। महंगाई और बेरोजगारी के आलम के बीच आम आदमी का जीना मुहाल है। बताया है कि ट्रेनों के किराए में चार गुना से अधिक और प्लेटफार्म टिकट की कीमतों मंे दस गुना इजाफा भी आम जनता के लिए हितकर नहीं है। 

साथ ही राशन वितरण प्रणाली पूरी तरह से ध्वस्त है और वास्तविक पात्र राशन के लिए भटक रहे हैं और अपात्र गरीबों का राशन खा रहे हैं। ऐसी ही हालत विधवा, विकलांग, वृद्धा पेंशन आदि सुविधाओं का भी है, करीब छह माह से पेंशन के पात्रों को लाभ नहीं मिल सका, जिससे पात्र पेंशनधारी भुखमरी की कगार पर पहुंच चुके हैं। कांग्रेसियों ने राष्ट्रपति से सभी मांगों पर विचार करने और मांगों को पूरा करने की मांग की है। इस मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष साकेत बिहारी मिश्रा, प्रदेश महासचिव अखिलेश शुक्ला, महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष सीमा खान, पवन देवी कोरी, अफसाना बेगम, सेवादल चीफ कैलाश बाजपेई, अशरफ उल्ला पप्पू रम्पा, केपी सेन, पंकज त्रिपाठी, रमेश चंद्र गुप्ता, सुखदेव गांधी, मुन्नी देवी समेत तमाम कांग्रेसी मौजूद रहे। 

Back to top button