बांदा : एमएसपी गारंटी कानून बनाने की मांग लेकर किसान यूनियन का प्रदर्शन

पीएम को संबोधित 15 सूत्रीय मांगपत्र सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा

भास्कर न्यूज

बांदा। भारतीय किसान यूनियन जिला इकाई ने एमएसपी गारंटी कानून बनाए जाने की मांग को लेकर सड़क पर उतर विरोध-प्रदर्शन किया। कलक्ट्रेट में धरना देकर नारेबाजी की। बाद में प्रधानमंत्री को संबोधित 15 सूत्रीय ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपते हुए किसानों को आर्थिक रूप से समृद्ध बनाने की मांग की।

भारतीय किसान यूनियन बुंदेलखंड-कानपुर क्षेत्र अध्यक्ष बैजनाथ अवस्थी, मंडल अध्यक्ष बृजेश सिंह, जिलाध्यक्ष विनोद कुमार सिंह तोमर के संयुक्त नेतृत्व में किसानों से संबंधित प्रधानमंत्री को नामित तथा नगर मजिस्ट्रेट को सौंपे गए 15 सूत्रीय मांगपत्र में कहा है कि एमएसपी गारंटी कानून बनाने के मामले में केंद्र सरकार द्वारा जो कमेटी बनाई गई है उस पर भाकियू को भरोसा नहीं है। इसलिए एक मात्र मांग यही है कि इस कानून को अमल में लाने की दिशा में प्रभावी पहल की जाए। उन्होंने किसानों को फसलों का उचित व लाभकारी मूल्य दिलाने के लिए स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू की जाए। इसी प्रकार से किसानों के लिए देश में एक अलग किसान आयोग का गठन किया जाए। कई राज्यों में भूमि अधिग्रहण के मामले में किसानों को उचित मुआवजा दिया जाए जो सर्किल रेट से चार गुना अधिक हो। इसके साथ ही मांग पत्र में सिंचाई के लिए किसानों को मुफ्त बिजली, खाद बीज व कीटनाशक पर दी जाने वाली सब्सिडी किसानों को देने, एनजीटी के नियमों में किसानों के लिए ढील देने, अन्ना पशुओं की समस्या जो गंभीर बनी हुई है उसके निराकरण के लिए सभी छुट्टा पशुओं को गौशालाओं में संरक्षित किया जाए, ताकि किसानों की खेती सुरक्षित रह सके। इसके अलावा कई अन्य मुद्दे भी किसानों द्वारा उठाए गए हैं। जिनका निराकरण भी प्राथमिकता से किए जाने की मांग की गई हैं। ज्ञापन देने में रामदास साहू, लखन यादव, बिंदा सिंह, सुरेश कुमार, युवराज सिंह, रामस्वरूप निषाद, ध्रुव सिंह, कमलनयन सिंह पटेल, महिला मोर्चा अध्यक्ष अनीता सिंह, संगीता अनुरागी समेत बड़ी संख्या में संगठन के लोग शामिल रहे।

Back to top button