बांदा : नागरिकों को घर व प्रतिष्ठानों पर झंडा फहराने के लिए करें प्रेरित

डीएम ने महाविद्यालयों के प्राचार्य को बैठक में दिए दिशा निर्देश

भास्कर न्यूज

बांदा। जिलाधिकारी अनुराग पटेल ने जनपद में 11 से 17 अगस्त तक हर घर तिरंगा कार्यक्रम संबंधी बैठक में तैयारियों की समीक्षा की। महाविद्यालय प्राचार्यों के साथ बैठक करते हुए प्रत्येक नागरिक को अपने घर एवं प्रतिष्ठानों पर झंडा फहराने को प्रेरित करने के निर्देश दिए। बताया कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य प्रत्येक नागरिक के मन में राष्ट्र प्रेम की भावना जागृत करना है।

कलक्ट्रेट सभागार में सोमवार को महाविद्यालयों के प्राचार्यों के साथ डीएम ने तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि हर घर तिरंगा कार्यक्रम का उद्देश्य लोगों में राष्ट्रप्रेम की भावना जागृत करने के साथ ही स्वतंत्रता के प्रतीकों के प्रति सम्मान उजागर करना है। उन्होंने कहा कि उच्च शिक्षा विभाग को 30 हजार का लक्ष्य दिया गया है, यह 28 जुलाई तक लक्ष्य के सापेक्ष सभी महाविद्यालय अपने-अपने निर्धारित लक्ष्यों को तीन दिन अंदर पूर्ण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि यह स्वतरू सेवा है। डीएम ने कहा कि जनता, लाभार्थी, एनजीओ, क्लब, व्यापार मंडल, उद्योग सभी तिरंगा झंडों की व्यवस्था सुनिश्चत कराएंगे। 15 अगस्त के दिन प्रत्येक सरकारी कार्यालयों आदि पर खादी का झंडा फहराया जाएगा। इस मौके पर कोई भी विद्यालय, बाजार, आफिस बंद नहीं रहेंगे। स्कूल में सभी छात्र यूनिफार्म में आएंगे तथा प्रत्येक विद्यालय के छात्र कॉलेज की वेशभूषा में परेड भी करेंगे। इसके साथ ही विययी विश्व तिरंगा प्यारा राष्ट्रगान का गायन करेंगे। जिलाधिकारी ने कहा कि हर घर तिरंगा फहराने के लिए झंडा सूती, पालिस्टर तथा शाटन कपड़े के बनवाए जाए। बैठक में सीडीओ वेदप्रकाश मौर्य, डीसी मनरेगा राघवेंद्र तिवारी, महिला महाविद्यालय प्राचार्य डा.दीपाली गुप्ता, डा.सबीहा रहमानी समेत अनेक महाविद्यालयों के प्राचार्य शामिल रहे।

निमार्णाधीन परियोजनाओं को पूरा कराने कराने के निर्देश

कलक्ट्रेट सभागार में डीएम अनुराग पटेल ने 50 लाख से अधिक लागत के निर्माण कार्यों व मुख्यमंत्री की घोषणा के अंतर्गत कराए जा रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा करते हुए कार्यदाई संस्थाओं से प्रगति तेज करने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि जनपद में 2972.49 करोड़ की लागत से 81 परियोजनाएं संचालित हैं। जिसमें 71 परियोजनाएं पूर्ण हो चुकी हैं और 48 परियोजनाएं प्रगति पर हैं। उन्होंने आवासीय भवनों के निर्माण, कृषि एवं प्रौद्योगिक विवि के अंतर्गत पशु चिकित्सा एवं पशुपालन महाविद्यालय में टीबीसीसी के निर्माण की प्रगति धीमी होने पर नाराजगी जताई और प्रगति बढ़ाने के निर्देश दिए। वहीं बस स्टैंड बबेरू के निर्माण की धीमी प्रगति पर यूपी सिडको को चेतावनी जारी करने के निर्देश दिए। वहीं पीडब्ल्यूडी अभियंता के मौजूद न होने पर स्पष्टीकरण मांगा।  उन्होंने सभी निर्माण कार्य प्राथमिकता से पूर्ण कराने के निर्देश दिए। डीएम ने अधिकारियों से कहा कि माह अगस्त में मुख्यमंत्री बांदा के भ्रमण कार्यक्रम पर आ सकते हैं। इसलिए कोई योजना अधूरी नहीं रहनी चाहिए।

Back to top button