बांदा : भीषण सड़क हादसे में दो सगे भाईयों समेत छह लोगों की मौत, कई घायल

डीएम, एसपी ने घटनास्थल का लिया जायजा, घायलों का बेहतर उपचार के निर्देश
भास्कर ब्यूरो
बांदा।
जिले के गिरवां बस स्टैंड के पास तेज रफ्तार इनोवा और टैंपों के बीच भीषण टक्कर हो गई, जिसकी चपेट में आकर दो सगे भाइयों समेत आधा दर्जन लोगों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। मृतकों में बुजुर्ग और बच्चे भी शामिल बताए जाते हैं। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस अधीक्षक अभिनंदन समेत भारी पुलिस बल मौके पर पहुंच गया और राहत कार्य चलाकर वाहनों में फंसे लोगों को बाहर निकालने में मदद की। घायलों को मेडिकल कालेज में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है।


मुख्यालय से करीब 25 किमी दूर गिरवां चौराहे के समीप ही शुक्रवार की शाम नरैनी से मुख्यालय की ओर आ रही तेज रफ्तार इनोवा कार सामने से आ रही टैंपों (आपे) को जोरदार टक्कर मार दी। जिससे टैंपो के परखच्चे उड़ गए और वह दो हिस्सों में विभाजित हो गई। उधर इनोवा कार पास ही पानी से भरे गड्‌ढे में गिर गई। घटना के बाद मौके पर चीख पुकार मच गई। आसपास मौजूद लोगों ने पुलिस को सूचना दी और घायलों को बाहर निकालने में मदद करते रहे। बताया जाता है कि टैंपों में सवार हाजी यासीन मुस्तफा (80) पुत्र जुल्कदर हुसैन निवासी शेखनपुर, गोरे (36) पुत्र शिवदास निवासी जमुनीपुर महोखर, आेमप्रकाश (28) पुत्र श्यामलाल बांसी, पनगरा निवासी प्रमोद द्विवेदी के दो पुत्र छोटू (6) व मोहित द्विवेदी (14) समेत एक अज्ञात व्यक्ति की मौत मौके पर ही हो गई। जबकि बांसी निवासी सुंदरम पांडेय, शिवम पांडेय, करतल निवासी राकेश कुमार, मसुरी निवासी सुमन, जमरेही निवासी चंद्रावती यादव समेत कई लोग घायल बताए जाते हैं। घटना की खबर मिलते ही प्रशासनिक अमला हरकत में आ गया और आनन फानन में पुलिस अधीक्षक अभिनंदन की अगुवाई में भारी पुलिस बल ने राहत और बचाव का मोर्चा संभाला। घटना की जानकारी मिलने पर डीएम अनुराग पटेल ने भी मेडिकल कॉलेज पहुंचकर मृतकाें के परिजनों को ढांढस बंधाया और घायलों का बेहतर उपचार करने के निर्देश दिए।

Back to top button