बाँदा : कस्बे की सफाई व्यवस्था धड़ाम, गली-मोहल्ले लबालब

गाैराबाबा धाम के रासलीला मैदान में भरा गंदा पानी, नगर पालिका बेबस

भास्कर न्यूज

अतर्रा। नगर पालिका प्रशासन की सफाई व्यवस्था इन दिनों पूरी तरह से बदहाल हो चुकी है। बारिश के बाद जलभराव की समस्या लोगों की जान पर आफत बनती जा रही है। नालियों का गंदा पानी गली मोहल्लों में भर रहा है, जिससे सावन के पवित्र माह में पूजा पाठ को निकलने वाली महिलाओं को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। गंदगी और जलभराव को लेकर लोगों में आक्रोश पनप रहा है और नगर पालिका से जलभराव की समस्या से जल्द निजात दिलाने की मांग उठाई है।

बारिश का मौसम शुरू होने के बाद नगर पालिका की सफाई व्यवस्था चरमरा गई है। पालिका प्रशासन की लापरवाही का खामियाजा कस्बे के वाशिंदों को भुगतना पड़ रहा है। थोड़ी सी बरसात होने के बाद जहां लोगों के घरों में नालियों का गंदा पानी भर जाता है, वहीं कस्बे के ऐतिहािसक व धार्मिक महत्व वाले मैदान भी जलभराव से लबालब हो गए हैं। गली मोहल्लों के रास्ते भी नालियों के गंदे पानी से भरे हैं, जिससे लोगों को घर से निकलने में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। 

उधर अधिशाषी अधिकारी राम सिंह कस्बे में साफ सफाई व्यवस्था दुरुस्त होने का दावा करते नहीं थक रहे हैं, जबकि जमीनी हकीकत उनके दावे से ठीक उलट है। कस्बे के प्रसिद्ध तीर्थ गौराबाबा धाम के बगल में स्थित रासलीला मैदान में नािलयों का गंदा पानी भरा है, जिससे लोगों को आने जाने में दिक्कतें होती हैं। मंदिर के महंत पुरुषोत्तम दास महाराज बताते हैं कि रासलीला मैदान समेत मंदिर परिसर में गंदा पानी जमा रहने से श्रद्धालुओं को समस्या होती है। इस संबंध में कई बार नगर पालिका को अवगत कराया गया है, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। सभासद दल के अध्यक्ष रणवीर सिंह उर्फ लालबाबू, माताबदल सोनकर, दिनेश दादू आदि ने पालिका प्रशासन का ध्यान आकृष्ट कराते हुए जलभराव की समस्या से लोगों को निजात दिलाने की मांग की है।

Back to top button