बीजीआर कंपनी पर करोड़ो रूपये भुगतान न करने का आरोप, ठेकेदार बोले-भुगतान नही तो काम नहीं

घाटमपुर। 1980 मेगावाट नेयवेली पावर प्लांट का निर्माण कार्य चल रहा है। यहां पर प्लांट का निर्माण कार्य बीजीआर कम्पनी के द्वारा कराया जा रहा है। करीब एक सैकड़ा ठेकेदारों ने बीजीआर कंपनी पर बीतें एक वर्ष से भुगतान न करने का आरोप लगाया है। पावर प्लांट स्थित मेन गेट के कुछ दूरी पर ठेकेदारों ने रोड पर टेंट लगाकर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया है। ठेकेदारों की मांग है, कि जब तक उनका भुगतान नही होगा वो धरना देंगें।

घाटमपुर नेयवेली पावर प्लांट में काम करवा रहे ठेकेदार रामपाल शाहू, नेपाल सिंह, अजय सिंह तोमर, वीरेंद्र मिश्रा, आरएस यादव, राघवेंद्र यादव, राजेन्द्र शर्मा, इमरान, प्रमोद कुमार, ध्रुव भार्गव, अरविंद शर्मा, अजीत बाजपेई, सुनील यादव समेत करीब एक सैकड़ा ठेकेदारों ने यहां पर निर्माण कार्य करवा रही बीजीआर कंपनी पर बीते एक वर्ष से ठेकेदारों का भुगतान न करने का आरोप लगाया है। ठेकेदारों क कहना है, कि बीजीआर कंपनी ने उन्हें 30 अप्रैल तक भुगतान करने का समय मांगा था। भुगतान न होने पर ठेकेदारों ने प्लांट के मेन गेट के कुछ दूरी पर रोड पर टेंट लगाकर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। यहां पर ठेकेदारों ने भुगतान न होने की शिकायत नेयवेली पावर प्लांट के अधिकारियों व कानपुर डीएम नेहा शर्मा से शिकायत कर भुगतान करवाने की मांग की है। वही ठेकेदारों का कहना है कि भुगतान नही तो काम नही। मामले में नेयवेली पावर प्लांट के डीजीएम एचआर पंकज ने बताया कि नेयवेली के द्वारा काम का भुगतान बीजीआर कंपनी को कर दिया गया है। बीजीआर के अधिकारियों से बातकर जल्द ठेकेदारों का भुगतान कराया जाएगा।

Back to top button