डी एम साहब जरवल ई ओ कही भंग न करवा दे शान्ति व्यवस्था

क़ुतुबअंसारी/अशोक सोनी
जरवल (बहराइच) जरवल कस्बे के अहमद शाह नगर मे होलिका दहन स्थल के करीब निकाय प्रशासन सार्वजनिक शौचालय का निर्माण करवा रहा है जिसे न तो उस वार्ड का सभासद चाहता है न मोहल्ले वासी।बावजूद इसके ई ओ वहाँ दबंगई के बल पर लोगो से अपशब्दों का प्रयोग करके लोगो पर मुकदमा लिखाने की धमकी दे रहा है जिससे वहाँ की स्थित काफी बिगड़ रही है।पता चला है कि जिस स्थान पर शौचालय का निर्माण किया जा रहा है वह जगह जलमंगन भी है जहाँ निर्माण हो ही नही सकता फिर भी ई ओ किसी की बात मानने पर राजी नही है।
हालांकि उक्त प्रकरण की पूरी जानकारी पुलिस विभाग के अलावा एस डी एम के संज्ञान मे तो पहुँच ही चुका है प्रदेश के एक कैबिनेट मन्त्री के भी संज्ञान मे आ चुका है फिर भी ई ओ संतोष कुमार चौधरी किसी की परवाह किए बिना अपनी जिद पर तुला होकर शौचालय का निर्माण करवा रहा है इस सम्बंध मे उक्त वार्ड के पीड़ित जनो ने एक शिकायती पत्र को लेकर अहमदशाह नगर के वार्ड सभासद सारिफ अहमद के साथ जब निकाय के ऑफिस पहुँचा तो उसे भी लेने से इनकार कर पीड़ितों को आफिस से भगवा दिया मजबूर होकर पीड़ित जनो ने एक शिकायती पत्र एस डी एम पंकज कुमार के अलावा जरवल पुलिस चौकी पर देकर न्याय की गुहार की बावजूद ई ओ किसी की नही सुन रहा है जिससे शांति ब्यवस्था भंग होती नजर आ रही है।
जरवल
उक्त प्रकरण की जानकारी मुझे प्रयाप्त हुई है मैंने कैसरगंज के एस डी एम पंकज कुमार सिंह के संज्ञान मे डाल कर मौके पर जाने को कहा है कि कोई भी कार्य वहाँ एसा न हो कि किसी की भावना को ठेस पहुँचे
*कौशलेन्द्र बिक्रम सिंह*
*पी आर ओ सहकारिता मंत्री*
 काफी समय से ई ओ संतोष कुमार चौधरी यहाँ अपनी मनमानी कर रहे हैं बोर्ड सभासदों को भी अपमानित कर रहे हैं उक्त प्रकरण को लेकर वह यहाँ विवाद अनावश्यक खड़ा कर दिए है होलिका दहन के पास शौचालय नही बनना चाहिए और भी तमाम सरकारी भूमि खाली पड़ी है
*सारिफ अहमद*
*सभासद अहमद शाह नगर जरवल*
मुझे पीड़ितों का शिकायती पत्र मिला है इसकी जांच के लिए मैने एक टीम भी गठित कर दी है मौके पर लेखपाल को भेज कर कार्य रुकवा दिया है।
*पंकज कुमार*
एस डी एम कैसरगंज
हिन्दू उत्सव समिति के संज्ञान मे ये बात आई है बड़ा ही घृणित ये कार्य निकाय प्रशासन कर रहा है आज ही समिति की बैठक कर हैम लोग डी एम से वार्ता करेगे।
*सचिन गर्ग*
*हिन्दू उत्सव समिति जरवल*
Back to top button
E-Paper