बाँदा : संदिग्ध अवस्था में फांसी पर लटकता मिला सिपाही का शव, पिता और चाचा ने जताई हत्या की आशंका

घटना की जांच-पड़ताल में जुटी पुलिस

भास्कर न्यूज

बांदा। किराए के मकान में रह रहे सिपाही का शव संदिग्ध अवस्था में फांसी के फंदे पर लटकता मिला। मौत की खबर मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया। पुलिस अधीक्षक ने घटनास्थल का निरीक्षण करते हुए जानकारी ली। पंचनामा के बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए मुख्यालय भेज दिया। उधर, मृतक के पिता और चाचा ने हत्या की आशंका जताई है। पुलिस ने घटना के बाद जांच-पड़ताल शुरू कर दी। आशंका जताई कि सिपाही ने प्रेम-प्रसंग या पारिवारिक विवाद के चलते खुदकुशी की है।

मूल रूप से झांसी जिले के शाहजहांपुर थाना क्षेत्र के कुलगहना गांव निवासी राघवेंद्र सिंह (24) पुत्र गोकुल प्रसाद कमासिन थाने में कांस्टेबिल पद पर तैनात था। शनिवार को सुबह पड़ोसियों ने मकान के पीछे पीलर पर नायलोन की रस्सी पर उसका शव फांसी पर लटकता देखा। पड़ोसियों ने तत्काल इसकी सूचना थाना पुलिस को दी। जानकारी मिलते ही थानाध्यक्ष हमराही सिपाहियों के साथ मौके पर पहुंच गए। साथी सिपाहियों ने पड़ोसियों की मदद से फंदा काटकर शव को नीचे उतारा। सिपाही का शव फंदे पर लटकता मिलने की खबर पर एसपी अभिनंदन, अपर एसपी लक्ष्मी निवास मिश्र व बबेरू सीओ मौके पर पहुंच गए। घटनास्थल का एसपी ने निरीक्षण करते हुए थानाध्यक्ष से जानकारी ली। घटना की खबर पाकर परिजन भी आ गए। पुलिस ने पंचनामा के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के पिता ने बताया कि राघवेंद्र 12 दिनों की छुट्टी के बाद तीन दिन पहले गांव से ड्यूटी पर लौटा था। घर पर कोई विवाद या दिक्कत नहीं थी। पिता और चाचा का कहना है कि राघवेंद्र मानसिक रूप से काफी मजबूत था। वह आत्मघाती कदम कतई नहीं उठा सकता। आशंका जताई कि अज्ञात लोगों ने हत्या करने के बाद शव को फंदे पर लटका कर आत्महत्या का रूप दे दिया। एसपी अभिनंदन का कहना है कि प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का है। पारिवारिक कलह के चलते ही कांस्टेबल ने फांसी लगाकर खुदकुशी की है। जबकि कमासिन थानाध्यक्ष उमेश कुमार सिंह ने बताया कि छुट्टी से ड्यूटी पर लौटने के बाद राघवेंद्र गुमसुम रहता था। छुट्टी पर जाने से पहले वह थाने की बैरक में रहता था। लौटने के बाद थाने के नजदीक किराए के कमरे में रहने लगा। बताया कि मृतक के मोबाइल फोन को कब्जे में लेकर जांच कराई जा रही है। आशंका जताई कि प्रेम-प्रसंग या फिर पारिवारिक विवाद की वजह से उसने खुदकुशी कर ली।

फोरेंसिक टीम व डाग स्क्वायड ने जुटाए सुबूत

कमासिन थाने के कांस्टेबल राघवेंद्र सिंह का शव संदिग्ध अवस्था में किराए के मकान की छत पर मिलने के बाद जांच करने के लिए शनिवार को फोरेंसिक टीम व डाग स्क्वायड ने मौके पर पहुंच कर फोटोग्राफी के साथ घटनास्थल की बारीकी से जांच कर साक्ष्य एकत्रित किया। लगभग दो घंटे तक संयुक्त टीम ने सघन जांच की गई। इस दौरान अपर एसपी लक्ष्मी निवासी मिश्रा और थानाध्यक्ष उमेश कुमार सिंह सहित भारी पुलिस बल घटनास्थल पर मौजूद रहा। जांच के क्रम में फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल के विभिन्न कोने से सैंपल लिए। फोरेंसिक टीम के अलावा एसपी के बुलावे पर घटना की जांच के लिए डॉग स्क्वायड टीम भी मौके पर पहुंची।

Back to top button