गोंडा : डीएम ने दिए सीएचसी अधीक्षक का वेतन रोकने के निर्देश

गोंडा। जिलाधिकारी डॉ. उज्ज्वल कुमार की अध्यक्षता में शनिवार को जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई। बैठक में जिला स्वास्थ्य समिति द्वारा राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत चलाए जा रहे कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक में प्रस्तावित एजेंडा के आधार पर यू.पी.एच.एम.आई.एस. हेल्थ डैशबोर्ड, मातृ स्वास्थ्य, बाल स्वास्थ्य, परिवार कल्याण, कम्युनिटी प्रोसेस, राष्ट्रीय कार्यक्रम नान कम्युनिकेबल डिजीज।

एन.सी.डी., एन.बी.सी.पी., आर.एन.टी.सी.पी., पी.एम.एम.वी.वाई., नियमित टीकाकरण, कोविड वैक्सीनेशन, जननी सुरक्षा व मातृ वंदना योजना के तहत भुगतान की स्थिति, आशा इन्सेन्टिव, हाई रिस्क प्रेग्नेंसी, ओपीडी व आईपीडी की स्थिति, प्राथामिक स्वास्थ्य केन्द्रों तथा सीएचसी पर बेडों की ऑक्यूपेंसी की स्थिति तथा वित्तीय समीक्षा सहित अन्य योजनाओं की जिलाधिकारी द्वारा गहन समीक्षा की गई।

बैठक में सीएमएस जिला अस्पताल महिला अस्पताल को कड़ी फटकार लगाते हुए निर्देश दिए हैं कि अस्पतालों में तैनात सभी डाक्टरों को निर्देशित किया जाय कि अस्पताल में आने वाले मरीजों, पत्रकार बन्धुओं तथा अन्य व्यक्तियों से सामान्य तरीके से वार्ता करें अन्यथा कड़ी कार्रवाई की जायेगी। बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि शासन की मंशानुसार जनसामान्य को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने के लिए सभी सीएचसी अधीक्षक सीएचसी पर ही निवास करें तथा संस्थागत प्रसव एवं विभिन्न प्रकार के टीकों को समय से लगवाना सुनिश्चित करें।

बैठक में सीएचसी मनकापुर काजीदेवर, छपिया तथा परसपुर की खराब प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए डीएम ने सीएचसी अधीक्षक का वेतन रोकने के लिए निर्देश। जिलाधिकारी ने खराब परफॉरमेंस वाले सीएचसी अधीक्षकों को निर्देश दिए कि वे एक सप्ताह में अपने सं संबंधित कार्यक्रमों में प्रगति लाएं अन्यथा उनके द्वारा कठोर एक्शन लिया जाएगा। अंधता निवारण कार्यक्रम की समीक्षा में उन्होंने निर्देश दिए कि आंखों की जांच कराने के लिए कैम्प आयोजित कराएं जाएं तथा जरूरतमंदों को निःशुल्क चश्मे का वितरण कराया जाय।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार, सी.एम.ओ. डॉक्टर रश्मि वर्मा, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी एपी सिंह, प्रभारी जिला पंचायत राज अधिकारी, प्रभारी जिला कार्यक्रम अधिकारी, प्रमुख अधीक्षक जिला अस्पताल, सीएमएस महिला अस्पताल डा. सुषमा सिंह, डीसीपीएम डा. आरपी सिंह समस्त सीएचसी अधीक्षक, ईओ नगर पालिका गोंडा, जिला पूर्ति अधिकारी कृष्ण गोपाल पांडेय, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अखिलेश प्रताप सिंह, सहित डब्ल्यू.एच.ओ. यूनिसेफ के अधिकारी एवं समस्त सी.एच.सी. अधीक्षक तथा अन्य संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Back to top button