लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले गिरोह के आठ सदस्यों को पकड़ा 

बदमाशों के कब्जे से कई बाइक व मोबाइल बरमाद किए गए  

भास्कर समाचार सेवा
मेरठ/सरधना। थाना सरधना क्षेत्र में गंगनहर कांवड़ मार्ग, हाइवे और संपर्क मार्गों पर बाइक लूट करने व मोबाइल छीनने वाला गिरोह आखिरकार सरधना पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पुलिस ने गिरोह के 8 शातिर बदमाशों को गिरफ्तार किया है, जबकि उनके दो साथी पुलिस को चकमा देकर फरार होने में कामयाब हो गए। पकड़े गए बदमाश बाईकों पर सवार होकर बड़े शातिर अंदाज में सड़कों पर निकलते थे और चंद पलो में लूट की वारदात को अंजाम देकर देहात के संपर्क मार्गों व छोटे रास्तों से गायब हो जाते थे। इस गिरोह ने हाल ही में थाना सरधना क्षेत्र में एक के बाद एक कई ताबड़तोड़ वारदातो को अंजाम दिया था । 

मेरठ पुलिस लाइन में पत्रकार वार्ता करते हुए एसपी देहात केशव कुमार ने बताया कि पुलिस के हत्थे जो गैंग चढ़ा है, उसने सरधना पुलिस की नाक में दम कर दिया था। सरधना पुलिस ने चौधरी चरण सिंह कावड़ मार्ग पर गांव अटेरना पुल से दौराला गंग नहर पुल की ओर आते समय गिरोह के 8 शातिर अपराधियों को गिरफ्तार किया है, जिनके कब्जे से अलग-अलग जगहों से लूटी और चोरी की गई 11 मोटर साईकिल और राहगीरों से छीने गए 2 मोबाइल बरामद हुए हैं। आरोपियों की निशानदेही पर दो ऐसी बाइक भी बरामद की गई हैं, जिनको काटकर बेचने की तैयारी कर रखी थी। 

पकड़े गए बदमाशों में अटेरना के रहने वाले सिविल पुत्र नेपाल, धर्मेन्द्र पुत्र धनपाल, गौरव पुत्र सुकेन्द्र, गौरव उर्फ कल्लू पुत्र अजयपाल और कुलदीप पुत्र धनपाल समेत गांव टेहरकी के नवनीत पुत्र भंवर सिंह, मुकेश पुत्र महेन्द्र और गांव नंगला ऑर्डर का विशाल पुत्र सुभाराम शामिल हैं। वहीं पुलिस कार्यवाही के दौरान गिरोह के 2 ओर शातिर सदस्य अटेरना निवासी मलकीत पुत्र सुकेन्द्र और अनीश पुत्र जीवन फरार होने में कामयाब रहे। गिरफ्तार बदमाशों को जेल भेजने के साथ ही पुलिस अब फरार आरोपियों की तलाश में जुट गई है।

गैंग को पकड़ने वाली पुलिस टीम में थाना प्रभारी लक्षमण वर्मा, क्राइम इंस्पेक्टर शिव प्रकाश सिंह, एसएसआई विनोद कुमार, उनि लियाकत अली, उनि अनिल कुमार, उनि सूर्यदीप, कांस्टेबल मोहित कुमार, नीरज कुमार, राजकुमार, प्रदीप कुमार, विकास कुमार, केशव कुमार, इमरान खान, शामिल रहे। अधिकारीयों ने सरधना पुलिस के इस गुडवर्क पर पीठ थपथपाई है।                               

Back to top button