फतेहपुर : बाबा बर्फानी की सजी झांकी, विशाल भंडारे का हुआ आयोजन

दैनिक भास्कर ब्यूरो

बहुआ/फतेहपुर । बहुआ कस्बे में बुधवार के दिन किराना व्यापारियों ने बाबा बर्फानी की झांकी सजाकर भंडारे का आयोजन किया। आयोजन में भारी भक्तों की भीड़ ने लंगर छका। बहुआ कस्बे मे विगत चार साल से श्रावण मास मे विशाल भंडारे का आयोजन हो रहा है। इसी क्रम में कस्बे के ब्यापारियों के सहयोग से विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। श्रावण मास में बहुआ मंडी बूंदी व पूड़ीयों की महक से एकबार फिर गुलजार हुई। हिन्दू पंचांग के पांचवे माह श्रावण का धर्म की दृष्टि से काफी महत्व है लोग इसी माह में रुद्राभिषेक धार्मिक अनुष्ठान व भंडारे का आयोजन अधिक से अधिक करते हैं ऐसी मान्यता है इस माह में धार्मिक कार्यक्रम करने से लोगों को कई गुना पुण्य फल प्राप्त होता है।

श्रावण मास में पूड़ी व बूंदी की खुशबू से गुलजार हुई बहुआ मंडी

बता दें कि श्रावण मास में जलाभिषेक के संदर्भ में एक कथा बहुत प्रचलित है। इस मास में देवों और राक्षसों ने अमृत प्राप्ति के लिए सागर मंथन किया तो उस मंथन के समय समुद्र में से अनेक पदार्थ उत्पन्न हुए और अमृत कलश से पूर्व कालकूट विष भी निकला उसकी ज्वाला से समस्त ब्रह्माण्ड जलने लगा। भगवान शिव ने सृष्टि को बचाने हेतु उस विष को अपने कंठ में उतार लिया जिससे उनका कंठ नीला हो गया।

मान्यता है कि वह समय श्रावण मास का समय था और विष के तपन को शांत करने हेतु देवताओं ने गंगाजल से भगवान शिव का पूजन व जलाभिषेक आरंभ किया, तभी से यह प्रथा आज भी चली आ रही है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार ये महीना भगवान शिव के ध्यान और पूजा पाठ के लिए सबसे उपयुक्त माना गया है। इस मास में भगवान शिव और माता पार्वती के समान आदर्श पति- पत्नी जैसा वैवाहिक जीवन पाने की चाह रखने वाली महिलाएं इस महीने व्रत करती हैं वो अपने खुशहाल दांपत्य जीवन के लिए आशीर्वाद मांगती हैं।

बहुआ कस्बे में प्रतिवर्ष श्रावण माह में व्यापारियों द्वारा विशाल भंडारे का आयोजन होता है। जिसमें व्यापारी गण बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते हैं। बुधवार को हुए इस आयोजन में मुख्य रूप से व्यापारी नेताओं सहित कोषाध्यक्ष धरम गुप्ता व दिलीप गुप्ता धर्मेंद्र गुप्ता, बाले गुप्ता, मोनू गुप्ता, नवल गुप्ता, दिलीप, संदीप, चुन्नू व संतोष, गगन सिंह आदि लोगो के विशेष सहयोग से भंडारा का आयोजन भव्यता से सम्पन्न हुआ।

Back to top button