युवती ने लगाया ब्लैक मेलिंग करने व रंगदारी मांगने का आरोप

भास्कर समाचार सेवा
मेरठ। हॉस्पिटल में जॉब करने वाली थाना किठौर क्षेत्र के क़स्बा शाहजहांपुर निवासी एक युवती से ब्लैक मेलिंग कर रंगदारी मांगने व अश्लील बातें करने का मामला प्रकाश में आया है। एसएसपी कार्यालय पहुंची युवती ने अपना दर्द एसएसपी रोहित सिंह सजवान के सामने रखा, जिस पर एसएसपी ने थानाध्यक्ष किठौर को मामले की जांच कर कार्यवाही के आदेश दिये है। युवती ने एसएसपी को दिए प्रार्थना पत्र में बताया कि वह ऑल इंडिया काउंसिल फॉर वोकेशनल एंड पैरामेडिकल साइंस से सीएमएस एंड ईडी का डिप्लोमा प्राप्त है तथा मेरठ के एक हॉस्पिटल में जॉब करती थी। युवती का आरोप है कि उसके विरुद्ध आईजीआरएस पर एक शिकायत दर्ज कराई गई, जिसमें उसे अवैध रूप से कस्बा शाहजहांपुर में क्लीनिक संचालक बताकर कार्रवाई करने मांग की गई है। इस संदर्भ में किठौर थाने पर युवती को बयान दर्ज करने बुलाया गया, जिसमें उसने अपने ऊपर लगे निराधार आरोपों का खंडन किया. आरोप है कि 22 जुलाई को उसके मोबाइल पर एक अज्ञात नंबर से कॉल आई। कॉलर ने अपने आप को सत्यमेव जयते मीडिया से बताते हुए आईजीआरएस का शिकायतकर्ता बताया तथा अपना नाम आरडी चौधरी बताते हुए कहा कि आपकी बहुत शिकायतें मिल रही हैं। अपनी चिकित्सा योग्यता के प्रमाण मुझे व्हाट्सएप पर भेजिए।

पत्रकार बताकर मांगे युवती से रुपए
बताया, कॉलर की इस अधिकारिक भाषा को सुनकर वह घबरा गई और उसने अपने चचेरे भाई के व्हाट्सएप से अपने डिप्लोमा किए प्रमाण सेंड करा दिए. तदोपरांत युवती के नंबर पर पुनः आरडी चौधरी की कॉल आई और युवती से कहा कि अगर आपको कार्यवाही से बचना है तो 25 हजार रुपए इंतजाम करके देने होंगे। यह कहकर अश्लील बातें करने लगा। युवती को शक होने पर उसने अपना सिम रिकॉर्डिंग करने के उद्देश्य से एंड्राइड मोबाइल में डाल लिया। 27 जुलाई को कथित पत्रकार आरडी चौधरी कॉल आ गई और उसने पुनः युवती से पैसों की डिमांड कर डाली तथा अमर्यादित एवं अश्लीलता की हदें पार करने लगा।

एसएसपी को सौंपी रिकॉर्डिंग
शुक्रवार को युवती ने इस पूरे प्रकरण की शिकायत करते हुए बातचीत की हुई रिकॉर्डिंग के प्रमाण भी एसएसपी को सौंप दिये है। एसएसपी ने मामले का संज्ञान लेते हुए कार्रवाई का आश्वासन दिया है।

कार्रवाई हुई तो खुलेगा बड़े स्कैंडल का राज
सूत्रों के अनुसार सत्यमेव जयते मीडिया नाम से आईजीआरएस पर किठौर क्षेत्र में काफी शिकायतें की गई है। शिकायत दर्ज करने के बाद कॉलर प्रतिवादी के टच में आकर कार्यवाही का भेय दिखाता है। उसके बाद पैसों की डिमांड की जाती है। इस तरह झांसे में लेकर ठगी का एक अनोखा तरीका अपनाया जाता है। सूत्रों के अनुसार आरडी चौधरी नामक कथित पत्रकार अपने आपको बड़ा पत्रकार बताता है तथा अपना एड्रेस भी विभिन्न बताता है। पुलिस द्वारा अगर मामले का संज्ञान लिया जाता है तो एक बड़ा राज़ फाश हो सकता है।

Back to top button