16 साल से थी सूनी गोद, 45 साल की उम्र में मिला मां बनने का सुख

एक औलाद होने की खुशी से बढ़कर कुछ भी नही और यह एहसास तब होता है जब कई लोग इस से वंचित रह जाते है। आज कल की खराब जीवनशैली, आफिस का तनाव एवं धूम्रपान महिला और पुरुष में इनफर्टिलिटी का कारण बन रहा है ।दर बदर भटकने के बाद भी आंगन में एक किलकारी सुनने की चाह पति पत्नी को अंदर से बहुत निराश कर देती है । पर आज के इस तकनीकी दौर में कुछ मुश्किल नही, पर अगर बात आये सही आई वी एफ (टेस्ट ट्यूब बेबी) क्लिनिक चुनने की तो यह एक कठिन कार्य है। पर बच्चे की चाहत के लिए कुछ भी नामुमकिन नही।

ऐसा ही कुछ कर दिखाया इंदिरापुरम (ग़ाज़ियाबाद) स्थित गुंजन आई वी एफ वर्ल्ड ने जिनकी आई वी एफ की तकनीक से हज़ारों दम्पति सन्तान सुख प्राप्त कर चुके हैं। गुंजन आई वी एफ वर्ल्ड के सफर की शुरुआत 12 साल पहले डॉ गुंजन गुप्ता गोविल ने इंग्लैंड से वापस अपने देश मे आकर की थी। उनका सपना था कि जो इलाज विदेशों में होता है, वही इलाज हमारे देश मे भी कम खर्च में किया जाए। इंदिरापुरम में एक छोटी सी क्लिनिक गुंजन गायनी न्यूरो क्लिनिक से शुरू हुआ सफ़र आज गाज़ियाबाद, मेरठ होते हुए जनकपुरी दिल्ली तक पहुंच गया है । आज उनकी ब्रांचेस जनकपुरी (दिल्ली), इंदिरापुरम (गाज़ियाबाद) और मेरठ में हैं |

इस शानदार सफर के दौरान कई चुनौतियाँ भी डॉ गुंजन गुप्ता गोविल और उनकी टीम के सामने आई लेकिन उन्होंने अपने अटल इरादों, सरल सोच और ईमानदारी के साथ उन चुनौतियों का सामना किया।
गुंजन आइ वी एफ वर्ल्ड ने निसन्तान दम्पतियों को आशा की वो किरण प्रदान की है, जिसके लिए वो सालो से इधर उधर भटक रहे थे , पर मंजिल नही मिल रही थी । वहां इलाज करा चुकी वंशिका उम्र 45 वर्ष ( बदला हुआ नाम )से जब हमने बात की तो उन्होंने कहा “16 वर्षों से मेरी गोद सूनी थी | मैं और मेरे पति हर जगह से इलाज कराके अपनी आस छोड़ चुके थे, पर तभी मेरी एक सहेली जाह्नवी जो नोयडा में रहती हैं, उसने हमें गुंजन आई वी एफ का नाम सुझाया। पहले तो हम बहुत हिचकिचाए पर जब हमने उनके वर्षों के अनुभव के बारे में सुना और जाना तो हमने कोशिश की, और आज उसी कोशिश का यह नतीजा है कि मेरी गोद में मेरी प्यारी बिटिया परी खेल रही है। आज मेरा परिवार पूरा है और हम सब बहुत खुश हैं। धन्यवाद गुंजन आई वी एफ “

गुंजन आई वी एफ अपने वर्षों के अनुभव, तकनीक एवम योग्यता द्वारा कई सन्तान वंचित महिलाओं को मातृत्व का सुख दे चुके हैं। इनके इलाज से 55 वर्ष तक की महिलाओं की भी सूनी गोद मुस्कुरा उठी है। सेंटर की अत्याधुनिक तकनीक, सफल चिकित्सकों की टीम , नर्सिंग स्टाफ की देखरेख, आधुनिक सुविधाएं द्वारा कई दम्पति बच्चों की किलकारियां सुन चुके है। विदेशों से भी निसन्तान दम्पति आज यहां अपना इलाज कराने के लिए आ रहे हैं।

गुंजन आई वी एफ वर्ल्ड का मूल मंत्र है “उम्मीदें अब खुशियाँ बनकर आएँगी, क्योंकि हर सूनी गोद अब मुस्कुराएगी” |

Back to top button
E-Paper