हरिद्वार : भोले के रंग में रंगी धर्मनगरी, हाईवे हुआ कांवड़ियों के हवाले

दैनिक भास्कर समाचार सेवा

हरिद्वार। कांवड़ मेले को सकुशल संपन्न कराने में जिला व पुलिस प्रशासन युद्ध स्तर पर जुटा हुआ है। अधिकारी कर्मचारी संपूर्ण मेला क्षेत्र में पैनी नजर गड़ाए हुए हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. योगेंद्र सिंह रावत अपनी टीम के साथ मेला क्षेत्र में लगे सीसीटीवी कैमरों के माध्यम से सीसीआर भवन में बनाए कंट्रोल रूम से मेले के सुरक्षा प्रबंधों व कांवड़ियों का वापसी का जायजा ले रहे है। प्रशासन की और से कांवड़ मेले में सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं।

पुलिस बल के साथ अर्द्धसैनिक बलों को भी हरकी पैड़ी सहित पूरे मेला क्षेत्र में तैनात किया गया है। कांवड़ियों को डूबने से बचाने के लिए गंगा में जल पुलिस व बीईजी के आर्मी तैराक दल को तैनात किया गया है। हाईवे एवं विभिन्न चौराहों पर पुलिस कर्मी डाक कांवड़ियों की भीड़ को नियंत्रित करने के साथ उन्हें उनके गंतव्यों की रवाना करने में जुटे हैं। दोपहिया वाहनों पर सवार व डीजे लगे वाहनों के आगे दौड़ते डाक कांवड़ियें दिन रात वापसी कर रहे हैं। हरिद्वार दिल्ली, हरिद्वार सहारनुपर हाईवे पूरी तरह डाक कांवड़ियें के हवाले हो गया है। सामान्य वाहनों का हाईवे पर प्रवेश पूरी तरह रोक दिया गया है। रोड़वेज बसों व अन्य वाहनों को परिवर्तित रूट से भेजा जा रहा है। कांवड़ मेले के अंतिम चरण में लाखों की संख्या में डाक कांवड़िएं हरिद्वार पहुंचे हैं।

डाक कांवड़ वाहनों से सभी पार्किंग स्थलों के पूरी तरह भरने के बाद सड़कों के किनारे वाहनों को पार्क किया जा रहा है। ऋषिकुल तिराहे पर डाक कांवड़ियों के वाहनों की लंबी कतारे लगी हुई हैं। ऋषिकुल तिराहे से कांवड़ियों को पैदल ही हरकी पैड़ी भेजा जा रहा है। हरकी पैड़ी से जल भरने के बाद कांवड़िएं अपर रोड़, ललताराव पुल, शिवमूर्ति होते हुए बैरागी कैंप पार्किंग व ऋषिकुल तिराहे से अपने गंतव्यों की और रवाना हो रही है। अगले चौबीस घंटे कांवड़ियों की वापसी जारी रहेगी। कांवड़ियों की भारी भीड़ आने के बाद स्थानीय लोग अपने घरों में कैद होकर रह गए हैं।

Back to top button