हरिद्वार : रुड़की निगम के नगर आयुक्त की बढ़ी मुश्किलें

दैनिक भास्कर समाचार सेवा

हरिद्वार। 3 करोड़ रुपए के भुगतान, 15 करोड़ के टेंडर स्वीकृत करने के मामले में रुड़की के नगर आयुक्त की मुश्किलें बढ़ गई है। निदेशक शहरी विकास निदेशालय के पत्र के तथा निगम के पार्षदों की शिकायत पर जिलाधिकारी ने रुड़की के नगर आयुक्त विजय नाथ शुक्ला का नगर निगम के कार्यों में वित्तीय अनियमितता बरतने के संबंध में स्पष्टीकरण लिया गया है।

वित्तीय अनियमितताओं पर जिलाधिकारी ने मांगा स्पष्टीकरण

जिलाधिकारी के निर्देश पर अपर जिलाधिकारी की ओर से जारी पत्र में 7 दिन के भीतर वित्तीय अनियमितताओं के चलते विजय नाथ शुक्ला से स्पष्टीकरण मांगा गया है जिन बिंदुओं का स्पष्टीकरण मांगा गया है उसमें रुड़की के वार्ड नंबर 13 साउथ सिविल लाइन से पेट्रोल पंप की ओर आरसीसी नाले की दीवार के निर्माण कार्य के लिए 11 मई को निविदा की गई थी जिसमें स्पष्टीकरण मांगा गया है कि निगम की बोर्ड की बैठक में चालू वित्त वर्ष के लिए केवल आवश्यक सेवाओं और कर्मचारियों के वेतन मद में बजट स्वीकृत किया गया था अन्य कार्यों के लिए बोर्ड की ओर से बजट स्वीकृत नहीं किया गया था।

उसके बावजूद नगर आयुक्त की ओर से लगभग तीन करोड़ का भुगतान तथा 15 करोड़ से अधिक की निविदाएं स्वीकृत बजट से अलग जारी कर दिए जाने के कारण भी नगर आयुक्त का स्पष्टीकरण मांगा गया है। साथ ही पूछा गया है कि पानी की निकासी का रास्ता ना होने पर भी वार्ड 13 में नाले का निर्माण का टेंडर तथा निर्माण कार्यों की उपविधि बनाए जाने का प्रस्ताव बोर्ड निरस्त होने के बावजूद वर्ष ठेकेदारों से रजिस्ट्रेशन में विभिन्न श्रेणियों तथा शर्तों का निर्धारण किस आधार पर किया गया है।

Back to top button