हज़रत इमाम हुसैन और शोहदायें कर्बला की याद में मजलिसे और जुलूसों का सिलसिला जारी

हजरत अब्बास की शुजाअत और शहादत की बयां

भास्कर समाचार सेवा

मेरठ। मोहरम की तीसरी तारीख को भी शहर सहित जैदी फार्म, लोहिया नगर में हज़रत इमाम हुसैन और शोहदायें कर्बला की याद में मजलिसे हुई और जुलूसों का सिलसिला जारी रहा।

इमामबारगाह जाहिदियान से रात्री 7:30 बजे 60वां जुलूस-ए-अलम और करबला इराक से आया परचम हजरत-ए-अब्बास गमगीन माहौल में और बड़ी अकीदत के साथ हाजी शमशाद अली जैदी युसूफ अली जैदी के संयोजन में बरामद हुआ। इससे पूर्व मौलाना अम्मार हैदर रिजवी ईरान ने मजलिस में हजरत अब्बास की शुजाअत और शहादत बयां की। सोजख्वानी सुहैल असगर काज़मी ने की। जुलूस के प्रारम्भ में अन्जुमन इमामिया के वाजिद अली गप्पू, चांदनिया, रविश, मीशम, अंजुमन दस्तये हुसैनी के साहिबे व्याज हुमायूँ अब्बास ताबिश, गजाल रजा, दिलदार जैदी, तन्जीम-ए-अब्बास के सफदर अली हिन्दुस्तानी अतीक-उल-हसनैन, दारैन जैदी, काशिफ जैदी, जिया जैदी आदि ने पुरसौज नौहे पढ़कर शौहदाये कर्बला के मकसद को उजागर किया। जुलूस कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शिया मस्जिद, जाहिदियान, पैठ बाजार, बुढ़ाना गेट चौकी, सुभाष बाजार चौक से गुजरता हुआ हसन अली जैदी मरहूम के अजाखाने जाहिदियान पहुंच कर सम्पन्न हुआ।

जहां नजर नियाज़ का एहतमाम किया गया। जुलूस में मोहर्रम कमेटी के संयोजक हाजी शाह अब्बास सफवी, मौमिन हसन एडवोकेट, हाजी खुर्शीद जैदी, नियाज हुसैन जैदी, गुड्डू हाजी जहीर आलम अंजुम, हाजी जंगम जैदी, अजहर अब्बास, कमर अब्बास, हैदर हसन, सुल्तान हैदर, अकबर हसन, राहत अली, तालिब अली जैदी बाकर जैदी, सहित बड़ी संख्या हुसैनी सौगवार शरीक रहे। जुलूस की व्यवस्था मौहर्रम कमेटी के जुलूस प्रभारी हामिद अली जमाल मीडिया प्रभारी अली हैदर रिजवी, हसन मोहम्मद नईम-उल-हसन, कौसर रजा, हैदर अब्बास आदि सम्भाले हुये थे।

जैदी फार्म में जुलूस
इसी क्रम में जैदी फार्म में भी नजीर हुसैन के अजाखाने जैदी चौक से अलम-ए-मुबारक का जुलूस 2 बजे बरामद होकर दरबारे हुसैनी पुरानी कोठी पहुंचा, जुलूस में अंजुमन फौजे हुसैनी, जैदी फार्म के रजाकारों ने मातमं व जावेद रजा ने नौहेरवानी की। जुलूस में बड़ी संख्या में हुसैनी सौगवार शरीक हुये ।

गमे-हुसैन में मजालिसें
आज भी अनेकों इमामबारगाहों अजाखानों में मजालिसों का सिलसिला जारी रहा। जैदी नगर सोसायटी स्थित इमामबारगाह पंजेतनी में मौलाना सैयद अम्मार हैदर रिज़वी ईरान ने प्रातः 10 बजे इमामबारगाह दरबारे हुसनी जैदी फार्म में मौलाना नदीम असगर ने 11 बजे दिन, मौलाना अली रिजवान ने रात्री 8 बजे तथा इमामबारगाह अबू तालिब लोहिया नगर में मौलाना अमीर आलम एवं शहर छोटी कर्बला में मौलाना अब्बास बाकरी हैदराबादी ने, इमामबाड़ा मनसबिया घण्टाघर में मौलाना मुर्तजा रजा, डा. सैयद इकबाल हुसैन सफवी के अजाखाने हुसैनाबाद में मौलाना सैयद गुलाम अब्बास नौगावां सादात ने मजालिसों में खिताब करते हुए कहा कि हजरत इमाम हुसैन और शोहदायें करबला ने दीन-ए-इस्लाम को बचाने के शहादत पेश करके दुनिया को जुल्म के खिलाफ आवाज़-ए-हक बुलन्द करने का पैगाम दिया।

इन्होंने बताया
मोहर्रम कमेटी के मीडिया प्रभारी अली हैदर रिज़वी ने बताया कि कल 4 मोहर्रम को डा० सैय्यद इकबाल हुसैन सफवी (मरहूम) के अजाखाने स्थित हुसैनादाब पूर्वा फैयाज़ अली से शाम 5 बजे अलम-ए-मुबारक का कदीमी जुलूस बरामद होगा, जिसके आयोजक अलहाज सैय्यद शाह अब्बास सफवी है।

Back to top button